किशोरी का अपहरण कर उन्नाव में गैंगरेप, एक महीने बाद जंगल में मिली पीड़िता

किशोरी का अपहरण कर उन्नाव में  गैंगरेप, एक महीने बाद जंगल में मिली पीड़ितादुष्कर्म पीड़िता। प्रतीकात्मक फोटो 

लखनऊ। राजधानी में बेखौफ बदमाशों ने आलमबाग इलाके से एक 16 वर्षीय किशोरी को नशीला पदार्थ पिलाकर उसका अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ता किशोरी को लखनऊ से सटे उन्नाव जिले में ले गए। जहां जंगलों में कई दरिंदों ने उसके साथ करीब एक माह तक गैंग रेप किया। वहीं दूसरी ओर किशोरी के पिता बेटी के घर से लापता होने पर इसकी शिकायत थाने में दर्ज कराई। आलमबाग पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक महीने बाद उन्नाव के जंगलों से किशोरी को जख्मी हालत में बरामद कर लिया। साथ ही एक आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। जबकि घटना में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

पकड़ा गया आरोपी।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

आलमबाग थाना प्रभारी आशुतोष त्रिपाठी ने बताया कि पूर्वोत्तर राज्य असम की एक किशोरी अपने परिवार के साथ आलमबाग क्षेत्र में रहती है। किशोरी का परिवार कूड़ा बीनने का काम करता है। तहरीर के मुताबिक, पिछले अप्रैल माह में उनकी किशोरी सुबह कूड़ा बीनने मोहल्ले में गई थी, इसके बाद से वह घर वापस नहीं आई। उन्होंने काफी तलाश की पर वह कहीं नहीं मिली। जिसके बाद पुलिस ने मामले की पड़ताल शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस को बड़ी मुश्किल से मुखबिर तंत्र के जरिए किशोरी को उन्नाव के जंगल से जख्मी हालत में बरामद कर लिया।

ये भी पढ़ें : उप्र : बदमाशों ने लड़कियों को छेड़ा, एक गिरफ्तार, 13 फरार

पीड़ित ने अपने बयान में पुलिस को बताया कि वह घटना वाले दिन सुबह कूड़ा बीनने गई थी। तभी वहां एक अंजान शख्स आया और उसने कहा कि, इतनी धूप है लो कोल्ड ड्रिंग पी लो। गरीब होने के चलते उनकी बात मान ली, लेकिन जब उसे होश आया, तो वह किसी अंजान जगह पर थी। उसने लोगों से मदद की उम्मीद लगाकर चीखने के लिए मुंह खोला तभी आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता का आरोप है कि दो आरोपियों ने उसे जंगल में एक माह तक कैद करके रखा। इस दौरान आरोपियों ने बारी-बारी से उसके साथ गैंगरेप किया।

संबंधित खबर : नाबालिग से इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली दरिंदगी, दो गिरफ्तार

वहीं, सीओ आलमबाग मीनाक्षी सिंह के मुताबिक इस मामले में पुलिस ने उन्नाव के रहने वाले मुख्य आरोपी रामू रावत पुत्र सुंदरलाल को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। फिलहाल आरोपी का एक साथी पप्पू अभी फरार है। सीओ ने आगे बताया कि आरोपी शातिर किस्म के हैं। यह अपने ठिकाने लगातार बदलते रहते हैं। आरोपी रामू पर इससे पहले भी अपहरण का आरोप लगा था, इससे प्रतित होता है कि यह लोग किसी मानव तस्करी गैंग से जुड़े हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top