रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापूरी को लखनऊ पुलिस ने किया गिरफ्तार

रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापूरी को लखनऊ पुलिस ने किया गिरफ्तारप्रेस क्लब से दारापूरी को गिरफ्तार करके ले जाती पुलिस

लखनऊ। पूर्व डीजीपी और रिटायर्ड आईपीएस अफसर एसआर दारापूरी समेत आठ लोगों को लखनऊ में कैसरबाग पुलिस ने गिरफ्तार किया। उनके साथ एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष प्रो. रमेश दीक्षित भी शामिल हैं। ये सभी सरकार के विरोध में प्रेस क्लब में गोपनीय मीटिंग कर रहे थे।

हज़रतगंज क्षेत्र में 10 जुलाई से विधानसभा सत्र शुरू होने के चलते दो दिन पहले से धारा 144 हर बार की तरह लागू है लेकिन दारापूरी की अगुवाई में चार-पांच दलित संगठन मीटिंग कर दलित उत्पीड़न को लेकर सीएम आवास का घेराव कर सीएम योगी से विरोध प्रदर्शन की रणनीति तैयार कर रहे थे जिसे देखते हुए एहतियात के तौर पर पुलिस ने प्रेस क्लब पर पहुंच कर सभी को गिरफ्तार कर थाने ले गई।

पिछले दिनों कुशीनगर में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के दौरे से पहले दलितों को साबुन और शैंपू बांटे थे, ताकि वे सीएम योगी की सभा में नहा-धोकर आएं। इसी बात से नाराजगी के चलते दारापूरी और उनके साथी मुख्यमंत्री आवास पर जाकर रैली निकालने की तैयारी कर रहे थे।

Share it
Top