हिंसाग्रस्त शब्बीरपुर में आने लगे अच्छे दिन, दलितों और ठाकुरों ने की बैठक 

हिंसाग्रस्त शब्बीरपुर में आने लगे अच्छे दिन, दलितों और ठाकुरों ने की बैठक शब्बीपुर गांव में बैठक का एक दृश्य।

लखनऊ। सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में हालात दोबारा से पटरी पर लौट रहे है। शब्बीरपुर गांव के दलितों और ठाकुरों ने रविवार को गांव के ग्राम पंचायत सभा में एक बैठक कर पूरे जिले को संदेश देने का प्रयास किया कि हम दोनों समुदाय के लोगों में वैचारिक मतभेद थे, जिसे दूर कर लिया गया है।

इस क्रम में दलित समुदाय के लोगों ने दोबारा से ठाकुरों के खेतों में खेती-किसानी शुरू कर दी है। साथ ही उनके इस कार्य में ठाकुर समुदाय के भी लोग बढ़चढ़ कर साथ दे रहें है। दोनों समुदाय के इस आपसी सोहार्द को देख एसपी सहारनपुर बबलू कुमार ने कहा कि दोनों समुदाय के लोग पहले की तरह दोबारा से एक दुसरे के सुख-दुख में शामिल हो रहें है। इसे देख कर पूरे सहारनुपर जिले में एक संदेश जायेगा और शहर के हालात पूरी तरह पहले की तरह सामान्य हो जायेगे।

ये भी पढ़िए - सहारनपुर दंगा बसपा के दो पूर्व विधायकों ने कराया : बालियान

आपसी सोहार्द को दोबारा से कायम करने का प्रयास

एसपी बबलू कुमार के मुताबिक, सहारनपुर में हालत पूरी तरह सामान्य हो गए हैं, जिसे देखते हुए शनिवार दोपहर से डीएम ने दोबारा से शहर में इंटरनेट सेवा बहाल कर देने का आदेश दिया है। हालांकि इस सब के बीच सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जा रही है कि, कोई अराजक तत्व दोबारा से किसी तरह का अफवाह फैला माहौल को खराब करने का प्रयास न करे। साथ ही उपद्रव में शामिल फरार चल रहे लोगों की तलाश जारी है, जिन्हें जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

इंटरनेट सेवा दोबारा से हुई बहाल

एसपी की मानें तो दोनों समुदाय के लोगों से बातचीत अब भी लगातार जारी है, जिस क्रम में शब्बीरपुर गांव के ठाकुरों और दलितों ने एक कदम आगे बढ़कर शहर के माहौल को फिर से पटरी पर लाने के लिए बैठक कर महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

एसपी बबलू कुमार ने दोनों समुदाय की बैठक की फोटो खुद सोशल मीडिया पर शेयर कर दूसरे गांव में संदेश दिया है कि, जिस गांव से हिंसा की शुरुआत हुई थी, जब वहां लोग एक हो सकते हैं, दूसरे इलाकों के दोनों समुदायों के लोगों को भी आपसी कटुता भूल कर एक हो जाना चाहिए।

सहारनपुर में हत्या कर माहौल खराब करने वाले गिरफ्तार

सहारनपुर के थाना बड़गांव क्षेत्र के शब्बीरपुर गांव में पूर्व मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की समाप्ति के बाद उसमें शामिल हुए लोगों के लौटते समय बड़गांव थाना क्षेत्र के ग्राम चन्दपुर मजबता के बाहरी क्षेत्रों में असमाजिक लोगों द्वारा लौट रहे लोगों पर कातिलाना हमला करने तथा मोटरसाईकिल पर घर लौट रहे आशीष एवं सचिन को गोली मार कर हत्या कर दी गई थी।

ये भी पढ़िए -
पाबंदी के साए में राहुल गांधी ने सुना सहारनपुर में दलितों का दर्द

इसके बाद सहारनपुर का माहौल दोबारा से बिगड़ गया था। इस मामले में पुलिस एवं क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम द्वारा ग्राम अम्बेहटा चांद से कातिलाना हमला करने वाले 01 अभियुक्त लोकेश उर्फ लुक्का एवं गोली मारकर आशीष की हत्या किये जाने में शामिल 02 अभियुक्तों राजू उर्फ बिलास पुण्डीर व सोनू उर्फ सोमपाल को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि, वह अपने गांव के अन्य व्यक्तियों द्वारा मिलकर 23 मई को घटना को अन्जाम दिया था।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.