गोरखपुर में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के लिए विभाग कर रहा गंभीरता से मंथन

Jitendra TiwariJitendra Tiwari   21 July 2017 6:35 PM GMT

गोरखपुर में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के लिए विभाग कर रहा गंभीरता से मंथनबिजली आपूर्ति को मिलेगी भरपूरी ऊर्जा, तैयारी तेज

गोरखपुर। बिजली आपूर्ति को लेकर प्रदेश सरकार के वायदे के लिए विभागीय स्तर पर तैयारी तेज हो चुकी है। पूर्वांचल विधुत वितरण निगम लिमिटेड की ओर से सभी पहलुओं पर गहनता से मंथन चल रहा है। विभाग की ओर से बिजली वितरण को सुचारू करने के लिए प्रत्येक जिलों में नये उपकेंद्र स्थापित करने की प्रक्रिया तेज हो चुकी है। अकेले गोरखपुर में तीन नये सब स्टेशन स्थापित होने जा रहे हैं। जिसमें से दो सब स्टेशनों कार्य प्रगति पर है, जबकि एक अन्य सब स्टेशन के लिए जमीन की तलाश पूरी हो चुकी है।

दरअसल प्रदेश सरकार द्वारा गाँवों को 18, तहसीलों को 20 व जिला मुख्यालय को 24 घंटे बिजली आपूर्ति का निर्देश दिया है, लेकिन पूर्वांचल में बिजली के जर्जर तारों के चलते विभाग को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। आये दिन लो वोल्टेज, लाइन में दिक्कत के चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

पूर्वांचल विधुत वितरण निगम लिमिटेड की ओर से गोरखपुर जोन में करीब 22 नये सब स्टेशन की योजना पर कार्य किया जा रहा है। लेकिन बजट व जमीन की उपलब्धता के चलते फिलहाल इनकी संख्या कुछ कम हो गई है। कुल मिलाकर विभाग का उद्देश्य है कि गाँव, कस्बे और शहर को बिजली वितरण करने में किसी भी प्रकार की पेरशानियों का सामना न करना पड़े। विभाग की ओर से नये सब स्टेशनों के निर्माण कार्य आईपीडीएस (इंट्रीग्रेटेड पावर डेवलपमेंट स्कीम) और दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना के तहत सभी कार्य होने हैं।

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड, गोरखपुर जोन के मुख्य अभियंता एके सिंह

रदारनगर ब्लॉ के भाऊपुर निवासी रामनारायन निषाद (50 वर्ष) ने बताया,“ सरकार के वायदे के अनुसार गाँवों को बिजली नहीं मिल पा रही है, आती भी है तो लो वोल्टेज की समस्या रहती है।”

फिलहाल गोरखपुर में मुंडेरा बाजार, राप्तीनगर में सब स्टेशन के निर्माण कार्य चल रहा है, इसके अलावा एक अन्य केंद्र के लिए जमीन चिह्नित कर ली गई है। कागजी कार्रवाई पूरी होते ही इसपर भी कार्य शुरू हो जाएगा। इसी प्रकार देवरिया, कुशीनगर और महराजगंज जिले में भी सब स्टेशन के स्थान का चयन हो चुका है। शासन से बजट के लिए हरी झंडी मिलते ही कार्य शुरू हो जाएगा।

चौरीचौरा तहसील के शैलेंद्र सिंह (38 वर्ष) ने बताया,“ तहसील मुख्यालय पर महज बारह घंटे ही बिजली मिल पा रही है। सरकार के आदेश की विभाग को परवाह नहीं है।”

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड, गोरखपुर जोन के मुख्य अभियंता एके सिंह ने बताया कि बिजली वितरण को लेकर नये सब स्टेशन स्थापित करने की दिशा में कार्य तेजी से चल रहा है, ताकि भरपूर बिजली आपूर्ति करने में किसी भी प्रकार की दिक्कत उत्पन्न न हो। इसके लिए मंडल में 22 नये सब स्टेशन स्थापित करने का प्रयास था, लेकिन बजट की कमी के चलते इनकी संख्या कम हो गई है। वहीं गोरखपुर में दो नये सब स्टेशनों के निर्माण का कार्य चल रहा है। एक और उपकेंद्र स्थापित करने की प्रक्रिया चल रही है। आने वाले दिनों में बिजली आपूर्ति को लेकर समस्या समाप्त हो जाएगी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top