बाराबंकी में संदिग्ध परिस्थतियों में नौ लोगों की मौत, मचा हड़कंप

बाराबंकी में संदिग्ध परिस्थतियों में नौ लोगों की मौत, मचा हड़कंपप्रशासनिक अधिकारी मौके पर जांच करते हुए

बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में अचानक नौ लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत से जिले में हड़कंप मच गया हैं। मृतकों के परिजन और आबकारी विभाग मौत का कारण ठंठ बता रहे हैं जबकि इलाज करने वाले डॉक्टर ने गंभीर अवस्था में भर्ती हुए इन मरीजों द्वारा स्प्रिट लिए जाने की बात कही जा रही है।

प्रशासनिक अधिकारियों सहित आबकारी विभाग मामले की जांच करने के लिए मौके पर जांच पड़ताल कर रहे है। उधर मरने वाले एक व्यक्ति को परिवार वालों ने आनन-फानन अंतिम संस्कार कर लाश जला दिया है। उपजिलाधिकारी नवाबगंज भी जांच करने मौके पर पहुचें जिन्होंने मौत का कारण लाशों का पोस्ट मार्टम करवाने के बाद कही है।

मामला बाराबंकी तहसील नवाबगंज के कोतवाली देवा अंतर्गत गाँव ढिढोरा, मुनिया पुरवा, जसवारा, रेउवा रतन पुर सहित देव गाँव का है। बीती रात करीबन आधा दर्जन से अधिक लोगो की अचानक तबीयत बिगड़ गयी। परिजनों ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवा में इलाज के लिए ले गए जहां से उन्हें जिला मुख्यालय ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया।

इमरजेंसी ड्यूटी में तैनात डाक्टर एके सिंह ने जानकारी देते हुए बताया, "गंभीर हालत में आये लोग स्प्रिट का सेवन किये हुए थे जिन्हे गंभीर अवस्था में ही लखनऊ ट्रामा सेंटर भेज दिया गया था, लेकिन लखनऊ ले जाते समय ही छह लोगों की मौतें हो गयी।"

उधर एक के बाद एक की मौतें होने से जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया सूत्रों की माने तो सभी लोगों ने जहरीली शराब का सेवन किया था, लेकिन सामने कोई भी बोलने को तैयार नहीं है। आबकारी विभाग मामले में जहरीली शराब पीने से इंकार कर रहा है और मरने वाले लोगो को ठंड ही मुख्य वजह बता रहा है साथ ही मृतक के परिजन भी मौत का कारण ठंड बता रहे हैं।

मरने वालों में मुनिया पुरवा गांव के 30 साल का रामफल, 40 साल के कमलेश है। जबकि देव गाँव के नौमीलाल और ढिढोरा गाँव के 40 वर्षीय राकेश की मौत भी ठंठ लगने से बताई जा रही है। रेउवा गाँव के 35 वर्षीय उमेश वही जसन वारा के 26 वर्षीय अनिल कुमार की भी मौत का कारण ठंड लगना बताया जा रहा है।

जाँच करने पहुचे उपजिलाधिकारी नबाब गंज शुशील प्रताप सिंह ने बताया, "पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के स्पस्ट कारण की जानकारी होगी।" उधर मृतक नौमिलाल निवासी देव गाँव के बेटे अमर सिंह ने कहा, "पिता जी को निमोनिया हो गई थी ठंड लगने से उनकी मौत हो गई है।

आबकारी अधिकारी दिलीप मणि तीवारी का कहना है कि जांच में मौत का कारण ठंड लगना बताया जा रहा है उधर अपर जिला अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने कहा डाक्टरों का पैनल बना कर पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है उसके बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

Share it
Share it
Share it
Top