सोलर संयंत्र लगा कर पाएं बिजली के बिल से छुटकारा

सोलर संयंत्र लगा कर पाएं बिजली के बिल से छुटकारायूपीनेडा की तरफ से घरों में सोलर पॉवर रूफ टॉप संयंत्र लगवाया जा सकता है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। यूपीनेडा की तरफ से घरों में सोलर पॉवर रूफ टॉप संयंत्र लगवाया जा सकता है। यह सुविधा आपके घर की बिजली की सारी ज़रूरतों को पूरा करेगी। साथ ही ज़रूरत पूरा होने के बाद जो ऊर्जा प्लांट में अतिरिक्त बचेगी उसे लाभार्थी विभाग को बेचकर पैसा भी कमा सकते हैं।

इस सुविधा के बारे में यूपीनेडा के वरिष्ठ परियोजना अधिकारी अतुल शंकर श्रीवास्तव बताते हैं, ‘’यूपीनेडा निजी तौर पर सोलर पॉवर रूफ टॉप संयंत्र लगवाने के लिए सब्सिडी दे रहा है। सौर ऊर्जा पॉवर प्लांट उपकरण आप घर की छत पर भी लगा सकते है। इसके लिए नेडा की तरफ से 30 फीसदी सब्सिडी दी जाती है।’’

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सब्सिडी पर सौर ऊर्जा प्लांट घर पर लगवाने के लिए आपको विकास भवन स्थित यूपीनेडा कार्यालय में अपना आवेदन जमा कराना होगा। इसके बाद विभाग लाभार्थी का ब्यौरा तैयार कर मंजूरी के लिए मंत्रालय को भेजेगा। सारी जानकारी के वेरिफिकेशन के बाद आवेदक को सब्सिडी पर संयंत्र मिल जाएगा। घरों पर लगाए जाने वाले सौर ऊर्जा संयंत्रों के बारे यूपीनेडा के क्षेत्रीय अभियंता सुभाष यादव ने बताया, ‘’पांच किलोवाट के सौर उपकरण की मदद से घर पर सात से आठ पंखे, बल्ब, फ्रिज यहां तक की गर्मियों में ऐसी भी चला सकते हैं। पांच किलोवाट के सौर ऊर्जा प्लांट पर करीब पांच लाख तक का खर्च आएगा। अगर सोलर बैटरी सिस्टम साथ लगाएं तो इसकी लागत साढ़े पांच लाख रुपए तक आएगी।’’

सोलर पैनल में मेंटीनेंस का खर्च नहीं आता, लेकिन हर 10 साल में एक बार बैट्री बदलनी होती है, जिसका खर्च करीब 20 हज़ार रुपए आता है। पांच किलोवाट का संयंत्र को लगाने के लिए 10 बाई 10 फुट की छत की ज़रूरत पड़ती है। महज एक कमरे की जगह पर दो किलोवाट का पावर प्लांट लगाया जा सकता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top