दुपट्टा, चुनरी की दुकान चलाने वाले की होनहार बेटी निकली टॉपर, किसान परिवार से हैं प्रियांशु व प्रगति 

दुपट्टा, चुनरी की  दुकान चलाने वाले की होनहार बेटी निकली टॉपर, किसान परिवार से हैं प्रियांशु व प्रगति प्रगति सिंह को प्रदेश में दूसरा स्थान मिला है

आकाश सिंह

बाराबंकी। यूपी के बाराबंकी जिले में भले ही इस बार इंटरमीडिएट की यूपी बोर्ड परीक्षा में टॉप करने वालों का नाम सुर्ख़ियों में ना रहा हो लेकिन हाई स्कूल में जिले का ही बोलबाला है। इन बच्चों की दिन-रात की मेहनत की कहानी आज सबकी जुबां पर है। प्रदेश में दूसरा स्थान पाने वाली अमीना खातून उन परिवार से हैं जिनके पिता कपड़े की एक मामूली दुकान चलाकर बेटी के डॉक्टर बनाने का सपना पूरा कर रहे हैं।

95.33 प्रतिशत अंक लाने वाली अमीना खातून के पिता लतीब अहमद देवा शरीफ में अपनी दुपट्टे और चुनरी की दुकान लगाते हैं, वहीं उनकी मां नसरीन बानो घर का काम काज देखती हैं और बेटी को डॉक्टर बनाने में वो पूरा सहयोग करती हैं। बाराबंकी के देवा स्थित प्रतिभा शिक्षा निकेतन नरैनी में पढ़ने वाली अमीना खातून सड़क खराब होने के चलते तीन किलोमीटर का सफर पैदल चलकर स्कूल पहुंचती थीं और आज वह काफी खुश हैं कि उनकी मेहनत रंग लाई। जिले से अमीना खातून और प्रगति सिंह प्रदेश में सेकेंड पोजीशन पर है जबकि प्रियांशु वर्मा को प्रदेश में तीसरा स्थान मिला है। दोनों किसान परिवार से ताल्लकु रखते हैं।

यूपी बोर्ड की बात हो तो बाराबंकी जिले का नाम लिया जाना जरूरी है। जिले ने पहले भी हाईस्कूल व इंटर की परीक्षाओं में अपना डंका बजवाया है, कई मेधावी छात्र-छात्राओं ने मेरिट में टॉप करके यूपी में अपने जिले का नाम रोशन किया है।

ये भी पढ़ें: UP Board Result 2017: हाईस्कूल में तेजस्वी, इंटर में प्रियांशी तिवारी ने किया टॉप, देखें टॉपर्स लिस्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं आदर्श

बाराबंकी के लखपेड़ाबाग स्थित पायनियर मॉन्टेसरी इंटर कालेज की छात्रा प्रगति सिंह प्रदेश में टॉप करने वाली छात्राओं में दूसरे नंबर पर हैं। प्रगति सिंह को 95.33 प्रतिशत अंक मिले हैं। प्रगति ने बताया कि शहर से लगभग 15 किलोमीटर दूर सतरिख थाना क्षेत्र के नींदनपुर गांव में उनका घर है जहाँ तक जाने के लिए खुद के वाहन के अलावा कोई और साधन नहीं है। यही वजह है कि प्रगति को शहर में रहकर अपनी पढ़ाई करनी पड़ी। अपने फ्यूचर प्लान के बारे में प्रगति बताती हैं कि अपनी पढ़ाई कम्प्लीट करके सिविल सर्विसेज में जाना चाहती हैं। प्रगति अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपने टीचर और पैरंट्स को देती हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना आदर्श मानती हैं।

यूपी बोर्ड में कन्नौज की बेटियों ने लहराया कामयाबी का परचम

इंजीनियर बनन चाहती हैं थर्ड नंबर पर आने वाली प्रियांशु

हाईस्कूल परीक्षा में प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त करने वाली प्रियांशु वर्मा मूल रूप से बाराबंकी शहर की निवासी हैं। प्रियांशु वर्मा ने हाईस्कूल परीक्षा में 95.17 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। प्रियांशु इस सफलता में अपने माता-पिता और शिक्षकों को सारा श्रेय देती हैं। प्रियांशु स्वामी विवेकानंद को अपना आदर्श मानती हैं क्योंकि वह अपने गुरुजनों का आदर करते थे , प्रियांशु पढ़ाई पूरी करके इंजीनियर बनना चाहती हैं।

UP Board Result 2017 : उत्तर प्रदेश बोर्ड के हाईस्कूल-इंटर में मऊ जिले का प्रदर्शन अव्वल

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top