विधान सभा निर्वाचन के लिये आये शिक्षकों को अभी तक विद्यालय में नहीं किया गया नियुक्त

विधान सभा निर्वाचन के लिये आये शिक्षकों को अभी तक विद्यालय में नहीं किया गया नियुक्तप्रतीकात्मक फ़ोटो

उन्नाव । जिले के शिक्षा विभाग तीन माह बीत गये बाहरी जनपदों से स्थानांतरित होकर आए 46 बेसिक स्कूलो के शिक्षक व शिक्षिकाएं बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में प्रतिदिन आते है तथा अपनी उपस्थित दर्ज करके वापस घर लौट जाते है। बिना पढ़ाए लाखो रुपये का वेतन भुगतान शिक्षा विभाग द्वारा किया जाएगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्हें विद्यालयों में पढ़ाने के लिए अभी तक भेजा नहीं गया है। विधान सभा निर्वाचन के पूर्व तीन जनवरी 2017 तक वाह्य जनपदो से 46 शिक्षक व शिक्षिकाएं स्थानांतरित होकर आए थे उनकी पोस्टिंग अभी तक विद्यालयों में नहीं की गयी है। पहले जनपद स्तर के शिक्षकों का स्थानांतरण कार्यक्रम चला। इस दौरान तीन जनवरी को विधान सभा निर्वाचन के लिए चुनाव आयोग ने अधिसूचना जारी कर दी जिसके चलते विद्यालयों में शिक्षको की पोस्टिंग नहीं की गयी।

इधर चुनाव हो गये। अधिसूचना खत्म हो गयी नयी सरकार गठित हो गयी मगर अभी भी शिक्षक,शिक्षिकाएं प्रतिदिन अपनी उपस्थित बीएसए कार्यालय में दर्ज करा रहे है। इस बीच लगभग दस दिन पूर्व महिला शिक्षिकाआे की काउंसलिंग भी हो गयी जिसमें विद्यालयों का चयन कर लिया। इसके बाद गत सप्ताह पुरुष शिक्षको की भी काउंसलिंग की गयी मगर विद्यालयों के लिए पोस्टिंग आदेश अभी तक नहीं मिला।

जब इस सम्बन्ध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी दीवान सिंह यादव से जानकारी की तो उन्होंने कहा कि काउंसलिंग कमेटी के सदस्यों के हस्ताक्षर नहीं हो पाए है जैसे हो जाएगें तो पोस्टिंग आदेश जारी कर दिए जायेगें

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top