प्रशिक्षण के नाम पर कॉलेज स्टाफ को पैसे नहीं दिया तो किया जलील, छात्रा ने आत्महत्या के लिए मांगी परमिशन

प्रशिक्षण के नाम पर कॉलेज स्टाफ को पैसे नहीं दिया तो किया जलील, छात्रा ने आत्महत्या के लिए मांगी परमिशनप्रतीकात्मक फ़ोटो

इश्त्याक खान, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। आईटीआई कालेज अटसू की छात्रा को कालेज स्टाफ ने प्रशिक्षण के नाम पर पैसा न देने पर ज़लील कर दिया। ज़लील किये जाने से आहत छात्रा ने जिलाधिकारी से न्याय की गुहार लगाते हुए न्याय न मिलने पर प्रशिक्षण छोड़ आत्महत्या किये जाने के लिये प्रार्थना पत्र दिया है।

जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर दूर अटसू में राजकीय औद्योगिक एवं प्रशिक्षण संस्थान स्थित है। कालेज में अध्ययनरत छात्रा रति दुबे (19) ने डीएम के.बालाजी को बताया कि शिक्षक प्रशिक्षण का अलग से शुल्क देने और नकल के नाम पर पैसे की मांग करते हैं। छात्रा ने अवैध तरीके से की जा रही वसूली देने से इंकार कर दिया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इससे तिलमिलाए शिक्षक ने छात्रा से अश्लील भाषा के साथ भलाबुरा कहके संस्थान से भगा दिया। छात्रा ने बताया कि अवैध वसूली को देने से इन्कार कर देने पर शिक्षक ने ऐसा व्यवहार किया है। मामले की शिकायत छात्रा ने प्रधानाचार्य से की तो उन्होंने कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया। प्रधानाचार्य के आश्वासन के बाद जब वह अपनी कक्षा में जाने लगी तो मौजूद स्टाफ ने उसे रोक दिया और अभद्र भाषा का प्रयोग कर उसे विद्यालय से भगा दिया।

छात्रा के साथ विद्यालय स्टाफ द्वारा की गई अभद्रता का मामला संज्ञान में आया है। जाँच की जा रही है। छात्रा को पूरा न्याय दिया जायेगा। दोषियों पर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
एके मिश्रा, प्रधानाचार्य, आईटीआई, अटसू

जब उसने फिर प्रधानाचार्य से शिकायत की तो उन्होंने सुनने से इंकार कर दिया। छात्रा ने बताया कि विद्यालय में रोज-रोज की ज़लालत से वह काफी परेशान हो चुकी है। वह कालेज का प्रशिक्षण छोड़ने और जलालत से तंग आकर आत्महत्या करने को मजबूर है। डीएम के.बालाजी ने डीआईओएस को आदेशित करते हुए कहा कि मामले की जांच कर दोषी शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई करें।

प्रधानाचार्य ने शिक्षक को हटाया

छात्रा से की जा रही अभद्रता के मामले में प्रधानाचार्य एके मिश्रा ने प्रथम दृष्टया दोषी पाये जाने पर शिक्षक को हटा दिया है। वैकल्पिक तौर पर किसी ट्रेड से प्रशिक्षण ले चुके प्रशिक्षणार्थी टीचिंग करते है। छात्रा से अभद्रता करने वाले शिक्षक को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top