जानिए कब आएंगे यूपी बोर्ड 2017 के परिणाम, इस वेबसाइट पर सबसे पहले घोषित होगा रिजल्ट  

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   24 May 2017 9:05 PM GMT

जानिए कब आएंगे यूपी बोर्ड 2017 के परिणाम, इस वेबसाइट पर सबसे पहले घोषित होगा रिजल्ट  55 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं के भविष्य का फैसला जून के पहले सप्ताह में होगा।

लखनऊ। कई राज्यों ने बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे घोषित कर दिए हैं और अब उत्तर प्रदेश भी 10वीं परीक्षा के नतीजे घोषित करने की तैयारी कर रहा है। विधानसभा चुनावों की वजह से देरी से हुए शुरू हुए एग्जाम और परीक्षार्थियों की संख्या अधिक होने की वजह से नतीजे घोषित होने में देरी हो सकती है।

कहा जा रहा है कि 6 या 7 जून तक 12वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। वहीं 10वीं का उसके 6-7 दिन में आ जाएगा। सबके सामने होगा 10वीं और 12वीं के परीक्षा का परिणाम। जैसे-जैसे तारीख नजदीक आ रही है छात्रों सहित अभिभावकों के भी धड़कने तेज होती जा रहीं। 2017 यूपी बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के सम्मिलित 55 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं के भविष्य का फैसला जून के पहले सप्ताह में हो सकता है। बताया जा रहा है कि जून की 6 या 7 तारीख में रिजल्ट जारी हो सकता है। बोर्ड ने रिजल्ट घोषित करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

ये भह पढ़ें- यूपी में सिर्फ 15 दिनों में चेक होंगी बोर्ड की तीन करोड़ कापियां

पिछले साल मई में ही घोषित हो गए थे परिणाम

साल मई में ही परिणाम घोषित हो गए थे। इस बार चुनाव के चलते परीक्षा देर से शुरू हुआ नतीजतन परिणाम में देर हो रही है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं का आयोजन करता है। 10वीं की परीक्षाओं का आयोजन 16 मार्च से लेकर 1 अप्रैल के बीच किया गया था। वहीं 12वीं की परीक्षाओं का आयोजन 16 मार्च से लेकर 21 अप्रैल के बीच किया गया था। इस समय अभिभावकों को अने बच्चों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है ताकि उनका मनोबल कम ना हो।

यहां आएगा रिजल्ट

बता दें कि इस बार 10वीं में 34,04,471 और 12वीं में 26,24,681 यानि कुल 60,29,152 लाख रेगुलर और प्राइवेट विद्यार्थियों ने भाग लिया था। परीक्षा के नतीजे जारी होने के बाद आधिकारिक वेबसाइट www.upmsp.nic.in या upresults.nic.in पर जारी किए जाएंगे।

27 अप्रैल से शुरू हुआ मूल्यांकन

27 अप्रैल से शुरू हुआ है मूल्‍यांकन वहीं, 27 अप्रैल को मूल्यांकन शुरू होने के बाद से अब तक आधी से ज्यादा कॉपियां जांची जा चुकी हैं। परीक्षक उत्तर पुस्तिकाओं का नंबर ओएमआर सीट पर दर्ज करते हैं, फिर केंद्रों से उसे डीआईओएम के माध्यम से यूपी बोर्ड को भेजा जा रहा है। अब तक जिनती कॉपियों का मूल्यांकन हो चुका है, उसमें से ज्यादातर की ओएमआर सीट पर दर्ज अंकों को कंप्यूटर में चढ़वाने के लिए यूपी बोर्ड को भेजा भी जा चुका है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top