जिन्हें इतिहास याद नहीं रहता, उनका भूगोल बदल जाता है: योगी

जिन्हें इतिहास याद नहीं रहता, उनका भूगोल बदल जाता है: योगीसमारोह में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस समेत कई लोगों ने लिया हिस्सा

लखनऊ। "जिन्हें अपना इतिहास याद नहीं रहता, उनका भूगोल बदल जाता है," मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाल गंगाधर तिलक के ऐतिहासिक उद्बोधन के 101 वर्ष पूरे होने पर कहा।

'स्वराज मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है, मैं इसे लेकर रहूंगा' का नारा लखनऊ में हुए कांग्रेस अधिवेशन में बाल गंगाधर तिलक ने दिया था, इस उद्घोष की स्वर्ण जयंती पर आयोजित स्मृति समारोह में उत्तर प्रदेश सरकार ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जीवन का मूलमंत्र सुझाते हुए कहा, "नकारात्मकता की जीवन में कोई जगह नहीं होनी चाहिए। यह हमारे कार्य की धार को कुंद करती है। अगर हमें सच में अपने देश को एक भारत-श्रेष्ठ भारत के रूप में आगे बढ़ाना है तो हमें अपने महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के सपनों को साकार करते हुए सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ना होगा।"

ये भी पढ़ें:- यूपी के पाठ्यक्रम में शामिल होगी जीरो बजट कृषि : योगी आदित्यनाथ

कार्यक्रम के दौरान बच्ची आलिया के संस्कृत में गायन की तारीफ करते हुए कहा, "आलिया ने जैसे गाया वो लोगों की आंखें खोलने वाला है, जो धर्म के नाम पर समाज को बांटते हैं।"

इस समारोह में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस समेत कई लोगों ने भाग लिया। उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र सरकारों के बीच एक संधि पत्र (एमओयू) भी किया गया, जिसके तहत दोनों राज्य शिक्षा और सांस्कृतिक क्षेत्र में एक दूसरे की मदद करेंगे।

ये भी पढ़ें- यूपी में सड़कों पर पड़ा है आलू, जितना चाहिए उठा लाइए

सम्मानित किए जाने वालों में शहीद भगत सिंह, मंगल पांडेय, चंद्रशेखर आजाद के परिवारों के साथ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भी थे। साथ ही बाल गंगाधरन तिलक की स्मारिका समेत दो पुस्तकों का भी विमाचन किया गया।

ये भी पढ़ें:- मदरसा यौन शोषण मामला : ‘हाफिज जी हमसे पैर दबवाते थे, पेट पर लात मारते थे’

लखनऊ : पुलिस ने मदरसे से 51 लड़कियां कराईं मुक्त, हो रहा था यौन शोषण

Share it
Top