कन्नौज : नायब तहसीलदार ने धोखे से पिया तेजाब, लखनऊ रेफर

कन्नौज : नायब तहसीलदार ने धोखे से पिया तेजाब, लखनऊ रेफरनायब तहसीलदार ने धोखे से पिया तेजाब

मोहम्मद परवेज, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

तिर्वा (कन्नौज)। संपूर्ण समाधान दिवस निपटाने के बाद एक कक्ष में बैठे नायब तहसीलदार ने तेजाब पी लिया। मेडिकल कॉलेज से उनको लखनऊ रेफर किया गया है। बताया गया है कि कर्मचारी ने धोखे से पानी की बजाय तेजाब दे दिया। खबर सुनकर प्रशासनिक हलके में हड़कंप मच गया। खबर पाते ही कई अधिकारी मौके पर पहुंचे।

कन्नौज जिला मुख्यालय से 14 किमी दूर राजकीय मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी में भर्ती 58 वर्षीय नायब तहसीलदार रामकरन वर्मा ने बताया, ‘‘हमने पानी मांगा था। टेबिल पर ठंडा पानी होने की वजह से नहीं पिया। नार्मल पानी चपरासी अवस्थी से मांगा। हरी बोतल से निकालकर उसने दिया। जैसे ही मैंने पिया उसका टेस्ट अलग लगा। बाद में पता चला कि क्लीनर रखा था।’’

एक शहीद की मां का दर्द : जवान बेटा देश के लिए हुआ कुर्बान, सरकार ने दिया धोखा

एसडीएम तिर्वा शालिनी प्रभाकर बताती हैं, ‘‘बोतल में पानी रखा है इस गलती से उसे डालकर दे दिया गया। ज्यादा पिया नहीं है, लेकिन शरीर के अंदर तो गया है। क्लीनर था। सफाई के बाद कर्मचारी उसे कमरे में रख देते हैं। तहसीलदार साहब नायब तहसीलदार साहब को लखनऊ ले गए हैं।’’

राजकीय मेडिकल कॉलेज के सीएमएस डॉ. दिलीप सिंह बताते हैं, ‘‘हालांकि स्थिति गंभीर नहीं है। तेजाब आंत में तो नहीं गया है इसकी जांच के लिए इंडोस्कॉपी के लिए कहा गया है।’’

बताया गया है कि संपूर्ण समाधान दिवस के बाद नायब तहसीलदार ई-डिस्ट्रिक लैब में बैठ गए। दोपहर ढाई बजे के करीब मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। नायब तहसीलदार का मामला होने की वजह से राजस्वकर्मी, अधिवक्ता समेत कई लोग पहुंचे। बाद में एंबुलेंस से लखनऊ भेजा गया।

फोरेंसिक लैब की हिदायत को पुलिस कर रही नजरअंदाज, नहीं सुलझ पाते मामले

Share it
Top