गोरखपुर के पर्यटक स्थलों का होगा तेजी से विकास

Jitendra TiwariJitendra Tiwari   6 July 2017 5:38 PM GMT

गोरखपुर के पर्यटक स्थलों का होगा तेजी से विकासभारत सरकार की स्वदेश दर्शन योजना के तहत कराया जाएगा पर्यटक स्थलों का विकास

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकता के चलते प्रशासन ने जिले केपर्यटक स्थलों के विकास के लिए तैयारी शुरू कर दी है। ताकि जिले में पर्यटन को और मजबूती मिल सके। इसके लिए सभी महत्वपूर्ण विंदुओं पर कार्य शुरू कर दिया गया है।ये सभी कार्य भारत सरकार के स्वदेश दर्शन योजना के तहत कराएं जाएंगे। इसी झलकभी शहर में देखने को मिल रही है।

आने वाले दिनों में शहर में प्रवेश करने पर होर्डिंग व बोर्ड दिखेंगे जो यहां के पर्यटकस्थलों की ओर लोगों को आकर्षित करेंगे। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि जिले के सभीप्रमुख स्थलों की सूची जिला प्रशासन की ओर से तैयार की जा चुकी है। सीएम योगी सेहरी झंडी मिलने के बाद इस कार्य तेज हो जाएगा।

ये भी पढ़ें - बागपत जिले के सैकड़ों किसान आत्मदाह करने पर मजबूर

दरअसल पर्यटकों को जनपद के पर्यटन स्थलों की जानकारी व इसके विकास के लिएखाका तैयार किया गया है। इसके तहत गोरखनाथ मंदिर में लाइट एंड साउंड शो,पार्किंग, सोलर लाइट, हाईमास्क लाइट, म्यूजिकल फव्वारा, लैंड स्टेपिंग, यात्रीनिवास, संत निवास का सौंदर्यीकरण कराना है। जबकि मानसरोवर कुंड परिसर केसौंदर्यीकरण में बोरिंग, वाउंड्रीवाल, सीवर लाइन, डस्टपिन के अलावा पेयजल कीव्यवस्था होनी है।

मोहद्दीपुर निवासी दिनेश तिवारी (41वर्ष) ने बताया,“ शहर का सौंदर्यीकरण होनाविकास की रोशनी के समान है। पर्यटक स्थलों के विकास से रोजगार की संभावनाबढ़ेगी। ”

प्राचीन राम लीला मैदान में स्टेज का निर्माण होगा। वहीं गंगा जमुना तहजीब कीमिसाल प्राचीन इमामबाड़ा मियां बाजार में सोलर लाइट, पेयजल, वज़ू, लैंड स्टेपिंग वलाल पत्थर लगाया जाएगा। पर्यटकों की सुविधा के लिए यूरीनल एवं ट्वायलेट कानिर्माण होना है।

कूड़ाघाट निवासी बबलू यादव (38 वर्ष) ने बताया,“ जब पर्यटक आएंगे तो व्यापार में भीतेजी आएगी। इससे शहर का विकास तेज गति से होगा।”

ये भी पढ़ें- दाल का उत्पादन बढ़ाने के लिए खुलेंगे सीड हब

इसी प्रकार गीता वाटिका का सौंदर्यीकरण होने के साथ ही राप्ती नदी पर घाट कानिर्माण, सूर्यकुंड धाम का विकास होना है। इसके अलावा सेंट एंड्रयूज चर्च, प्राचीन शिवमंदिर मुंजेश्वरनाथ व प्राचीन बुढिय़ा माई मंदिर स्थल का विकास होगा।

गोरखनाथ निवासी करन गुप्ता व युवा व्यापारी (23 वर्ष) ने बताया,“ पर्यटक स्थलों काविकास होने से पर्यटकों की भीड़ बढ़ेगी। व्यापारी खुशहाल रहेंगे।”

गोरखपुर के मुख्य प्रवेश मार्गों पर ओवरहेड साइनेजिज व पर्यटन स्थलों पर चिन्हितसाइनेजिज लगेगा। राजकीय उद्यान व्ही पार्क में का भी पर्यटन की दृष्टि से विकासहोगा।

जिले के सभी महत्वपूर्ण पर्यटन व दर्शनीय स्थलों का चयन कर लिया गया है। बेहतरकार्य कराने के लिए बैठकों का दौरा जारी है। शासन से हरी झंडी मिलने के बाद कार्यशुरू होगा।- रविंद्र कुमार, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी, गोरखपुर।

तिवारीपुर निवासी कृष्णा यादव (22 वर्ष) ने बताया,“ दर्शनीय स्थलों का विकास होनाअच्छी बात है। लोगों को घुमने के लिए बेहतर माहौल मिलेगा।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top