देश में घूम-घूम कर नायाब चश्मे से दिखाते थे खजाना, पुलिस ने दबोचा

Kushal MishraKushal Mishra   2 Nov 2017 11:17 PM GMT

देश में घूम-घूम कर नायाब चश्मे से दिखाते थे खजाना, पुलिस ने दबोचापुलिस की गिरफ्त में आए बदमाश। 

लखनऊ। "मेरे पास एक ऐसा नायाब चश्मा है, जिससे न केवल पुराना खजाना देखा जा सकता है, बल्कि यह चश्मा जमीन के अंदर गड़ी हुई चीजें भी दिखा सकता है। और तो और, दीवार के उस पार खड़े व्यक्ति को भी देखा जा सकता है।" रिजवान और आमिर ऐसी ही बातों से लोगों को झांसे में लेकर उन्हें ठगा करते थे। दरगाह पुलिस ने गुरुवार को मुठभेड़ में ऐसे अंतरराज्यीय गैंग के आठ बदमाशों को गिरफ्तार कर इस गैंग का पर्दाफाश किया है।

यह नायाब चश्मा देने का झांसा देते

पुलिस की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, इस गैंग का संचालन रिजवान और मो. आमिर करते थे। यह गैंग पूरे भारत में घूमकर लोगों को तलाश कर उनको एक ऐसे नायाब चश्मे के बारे में बताता था और उनको ठगता था। पुलिस ने इस नायाब चश्मे को भी बदमाशों के पास से बरामद किया है। पुलिस के अनुसार, गैंग के सदस्य लोगों को बताते थे कि यह चश्मा भारत में एक-दो बड़े अधिकारियों के पास ही है, जिसे मैं आपको दे सकता हूं, जिसकी मदद से आप अपना गड़ा हुआ खजाना ढूढ़ सकते हैं। जब ये लोग उस व्यक्ति को चश्मे को दिखाते और सामने वाले की आंख में लगाते तो गैंग के सदस्य पीछे खड़े होकर प्रोजेक्टर से फिल्म प्रोजेक्ट करते थे, जिससे दीवार पर कंकाल दिखता और वे व्यक्ति इन ठगों के झांसे में आ जाता है और उसको दीवार पार खड़ा व्यक्ति दिखने लगता। इसी तरह वे लोगों को और भी कई कारनामे करके दिखलाते।

चावल को खींचकर दिखाते

पुलिस के मुताबिक, गैंग के सदस्य लोगों को समझाते थे कि जो धातु पुरानी हो जाती है, उसमें चुंबकीय शक्ति आ जाती है और वह चावल को अपनी तरफ खींचने लगता है। तब बदमाश यंत्र में चिप लगाकर रिमोट से कनेक्ट कर चावल के दानों को पास में लाते। इसी तरफ नागमणि और मोरपंख आदि दिखाकर झांसा देते थे।

विधायक के परिवार के सदस्यों को भी ठगा

व्यक्ति इनके सारे झांसे में आकर काफी पैसा दे देता है, जिसको लेकर ये भाग जाते। इसी प्रकार इन्होंने असलम रायनी (विधायक भिनगा) के परिवार के सदस्यों को झांसे में डालकर 21 लाख रूपये लेकर फरार हो गए।

विशेष धातु के काफी वजनी चश्में

पुलिस ने मुठभेड़ और फायरिंग के बाद इस अंतरराज्यीय ठगों के आठ सदस्यों को गुरुवार को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन बदमाशों के पास से 2,18,000 रुपए, दो अदद विशेष धातु से विशेष रूप से निर्मित काफी वजनी चश्मा, एक अदद गोल बांट नुमा विशेष धातु से निर्मित (चिप लगा) यंत्र, तीन अदद पुराने सिक्के, एक अदद गोल धातु में लेंस लगा यंत्र, तीन लाल मोती, दो अदद तमंचा, दो खोखा कारतूस, चार जिन्दा कारतूस 12 बोर, पांच अदद चाकू समेत कई मोबाइल फोन बरामद किए हैं।

ये हुए गिरफ्तार

गिरफ्त में आए अभियुक्तों में मुरादाबाद निवासी आमिर उर्फ गुड्डू, लखीमपुर खीरी निवासी खलील, पीलीभीत के अशोक गुप्ता, बहराइच के गोपाल उर्फ माइनुद्दीन, अनीस अहमद, मो. रिजवान और रामनरेश श्रीवास्तव, नई दिल्ली के मो. कयूम शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: एनटीपीसी विस्फोट: ‘किसी इंसान को पिघलाने के लिए पर्याप्त थी गर्मी’

यह भी पढ़ें: एनटीपीसी हादसा : अधिकारी बोले- आग मार रहा है तो घर जाओ, हम तुम्हारे पैसे काट लेंगे

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top