उन्नावः निकाय चुनाव के लिए वार्डों के प्रस्तावित आरक्षण की फाइल तैयार

उन्नावः निकाय चुनाव के लिए वार्डों के प्रस्तावित आरक्षण की फाइल तैयारनिकाय चुनाव उन्नाव

राजेंद्र सिंह भदोरिया, स्व्यं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

उन्नाव। आगामी निकाय चुनाव के लिए जिला प्रशासन ने वार्डों की प्रस्तावित आरक्षण की फाइल तैयार कर ली है। प्रशासन ने अंतिम मुहर के लिए फाइल को शासन के पास भेज भी दिया है। जहां शासन की अंतिम मुहर लगने के बाद वार्डों के आरक्षण को सार्वजनिक कर दिया जाएगा।

निकाय चुनाव की घोषणा के साथ ही शासन ने वार्डों के लिए आरक्षण सूची तैयार करने के निर्देश दे दिए थे। प्रशासन ने पूरी कसरत कर आरक्षण सूची तैयार कर ली है और अनुमति के लिए उसे शासन के पास भी भेज दिया है। बताया जा रहा है कि शासन की अनुमति मिलते ही आरक्षण के तहत कई दिग्गजों को अपनी रणनीति फिर से तैयार करनी पड़ सकती है।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

निकाय चुनाव की घोषणा के बाद से भविष्य में चुनाव लडऩे के इच्छुक उम्मीदवार अभी से तैयारियों में जुट गए हैं। हालांकि आरक्षण का सीन तय न होने से अभी कई उम्मीदवार तैयारियों में तेजी नहीं ला पा रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि सभी संभावित उम्मीदवार वार्डों की आरक्षण सूची जारी होने का इंतजार कर रहे हैं। प्रशासन की ओर से शासन को वार्डों के आरक्षण की सूची जो भेजी गई है उसके आधार पर नगर पंचायत नवाबगंज में दो वार्ड अनुसूचित जाति महिला, दो वार्ड को पिछड़ा वर्ग महिला और चार वार्डों को अनारक्षित आरक्षण की श्रेणी में रखा गया है।

इसी तरह नगर पंचायत औरास में तीन वार्ड को अनारक्षित श्रेणी, तीन वार्ड को अनुसूचित जाति महिला, एक वार्ड को पिछड़ी वर्ग महिला की श्रेणी में रखा गया है। जबकि गंजमुरादाबाद नगर पंचायत में पांच वार्डों को अनारक्षित व दो वार्डों को सामान्य महिला की श्रेणी में रखा गया है। यहां हम बताते चलें कि यह आरक्षण सिर्फ प्रस्तावित है। अभी शासन की ओर से वार्डों के आरक्षण पर अंतिम मुहर नहीं लगी है। शासन द्वारा अंतिम मुहर लगने के बाद ही वार्डों का आरक्षण फाइनल हो सकेगा।

राजनैतिक दलों ने तेज की तैयारियां

निकाय चुनाव के लिए राजनीतिक दलों की धडक़नें बढऩे लगी हैं। सभी ने अपने स्तर से तैयारियां शुरू कर दी हैं। हालांकि मौजूदा समय में आरक्षण की स्थिति स्पष्ट नहीं है। लेकिन आरक्षण की तस्वीर साफ होते ही नगर पंचायतों में चुनाव का रंग दिखने लगेगा। साथ ही दावेदारों की स्थिति का भी आकलन हो सकेगा। चुनाव को लेकर सभी राजनैतिक दल भी तैयारियों में जुटे हुए हैं। सपा लगातार बैठक कर तैयारियों की समीक्षा कर रही हैं। वहीं अन्य दलों में दावेदार टिकट की होड़ में लगे हैं।

केंद्र के बाद राज्य और अब निकाय चुनाव के लिए भाजपा का पूरा फोकस है। वर्ष 2019 की तैयारियों में जुटी भाजपा इस निकाय चुनाव को सेमीफाइनल मानकर चल रही है। दिल्ली समेत अन्य प्रदेशों में भाजपा की लहर से कार्यकर्ताओं में जोश है। पार्टी को संगठित करने में कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है। मौजूदा समय में भाजपा की ओर से दावेदारों की संख्या का आंकड़ा काफी ऊंचा है। हालांकि अभी आरक्षण की स्थिति स्पष्ट नहीं है ऐसे में दावेदार भी खुलकर नहीं आ रहे हैं। लेकिन कुछ ऐसे दावेदार हैं जो लगातार बड़े नेताओं के संपर्क में हैं। वह इस जुगत में लगे हैं कि अगर सीट महिला होती है तो वह चुनाव के मैदान में महिला को उतार सकें।

नगर पंचायत नवाबगंज


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top