उत्तर प्रदेश

नेशनल पुलिस मिशन में सहायक बनेगा यूपी 100  

लखनऊ। आंतरिक सुरक्षा और अगली शताब्दी की चुनौतियों से निपटने के लिए साल 2005 में नेशनल पुलिस मिशन की शुरूआत की गई थी। इसमें पुलिस को भौतिक, बुद्धिजीवी संसाधन से युक्त संगठन बनाने के लिए ब्यूरो आफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट काम कर रहा है। इसी के सिलसिले में शुक्रवार को ब्यूरो ऑफ पुलिस के महानिदेशक ने 14 वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों के साथ यूपी 100 और 1090 कार्यालय का भ्रमण किया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस अवसर पर अधिकारियों ने बताया कि पुलिस मिशन में यूपी 100 और 1090 सहायक होंगे। नेशनल पुलिस मिशन के अंतर्गत ही माइको मिशन की स्थापना की जा रही है। देशभर में अभी तक 9 माइक्रो मिशन की स्थापना की जा चुकी है।

यह माइक्रो मिशन सामुदायिक पुलिसिंग, ह्यूमन रिसोर्स डेवलपमेंट, लैंगिक अपराध और इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में काम कर रहा है। इस मिशन में ब्यूरो आफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट डीजी एमसी बोरवांकर, डीजीपी होमगार्ड प्रदीप कुमार, नेशनल पुलिस मिशन के निदेशक निर्मल कुमार आजाद, बीपीआर के एडीजी परवेज हयात, मध्यप्रदेश पुलिस के एडीजी संजय राना, एडीजी टेलीकॉम मध्यप्रदेश पुलिस अनवेश मंगलम, एडीजी मध्यप्रदेश पुलिस एसएल थावसेन, एडीजी तमिलनाडु पुलिस शकील अख्तर, एडीजी जम्मू-कश्मीर एके चौधरी सहित कई पुलिस अधकारी शामिल हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।