यूपी : औरैया में राज्यपाल ने छात्रों को किया सम्मानित 

Ishtyak KhanIshtyak Khan   1 Sep 2017 7:14 PM GMT

यूपी : औरैया में राज्यपाल ने छात्रों को किया सम्मानित राज्यपाल राम नाईक ने टाप करने वाली सात छात्राओं और एक छात्र को सम्मानित किया।

औरैया। जिला मुख्यालय से 10 किमी दूर पुराना नुमाईश रोड पर स्थित तिलक महाविद्यालय की स्वर्ण जयंती में उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने शिरकत कर होनहारों को पुरस्कृत किया।

शिक्षा के क्षेत्र में नकल विहीन परीक्षा और बेहतर शिक्षा में अपना अव्वल स्थान जिले के अलावा विश्वविद्यालय में बनाने वाले तिलक महाविद्यालय के स्वर्ण जयंती समारोह में राज्यपाल ने छात्रों से ज्यादा जमकर छात्राओं की प्रशंसा की। उन्होंने कहा लड़कों से आगे लड़कियां स्थान पा रही हैं, इसलिए महिला सशक्तिकरण अब धरातल पर दिखाई देने लगा है।

ये भी पढ़ें-यूपी : गोंडा में BSNL ने दो लाख उपभोक्ताओ का सिम वेरिफिकेशन का लक्ष्य रखा

मुख्य अतिथि को कानपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर जेवी वैशम्पायन और महाविद्यालय के प्राचार्य अविनाश गुप्ता ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। कुलपति प्रोफेसर जेवी वैशम्पायन ने कहा, कानपुर यूनिवर्सिटी में स्थापना से लेकर आज तक इस महाविद्यालय की किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं आई है। महाविद्यालय में प्राइवेट महाविद्यालय के छात्रों की परीक्षा कराई गई, लेकिन कोई समस्या नहीं आई। मुख्य अतिथि राज्यपाल राम नाईक ने महाविद्यालय टाप करने वाली सात छात्राओं और एक छात्र को सम्मानित किया।

सम्मानित करने के बाद राज्यपाल ने कहा,“40 साल पहले 100 छात्रों के बीच मात्र 4 से लेकर 6 छात्राएं इंटर से लेकर महाविद्यालय में दिखती थी। लेकिन अब छात्र और छात्राओं को अनुपात पूरा हो गया है। छात्राएं लड़कों से आगे निकली हैं, इससे लगता है कि महिला सशक्तिकरण हवा में नहीं बल्कि धरातल पर दिखाई देने लगा है। शिक्षा ग्रहण करते समय छात्रों का कोई धर्म नहीं होता है। किताबी पढाई के साथ-साथ स्वास्थ्य बरकरार रखने के लिए छात्र दैनिक व्यायाम करें। जिंदगी में सफल होने के लिए चार मंत्र सीख ले। पहला मंत्र मुस्कराना, सराहना, अहंकार से दूर, अच्छी सोच।”

ये भी पढ़ें-यहां महिलाएं बुजुर्गों और ऊंची जाति वालों के सामने चप्पल हाथ में लेकर चलती हैं...

राज्यपाल राम नाईक ने अपने संबोधन में कहा,"देश की तरक्की के लिए आतंकवाद सबसे बड़ी पीड़ा है। जब तक देश की जनता एक साथ खड़े होकर आंतकवाद का विरोध नहीं करेगी। तब तक देश की सफलता संभव नहीं है। देश के लोग एक साथ होकर सरकार का साथ दें तभी देश तरक्की करेगा।" दूषित हो रहे पर्यावरण को सुरक्षित करने के लिए सभी लोग पौधों को लगाए और उनकी सुरक्षा करें। पौधे लगाकर उनकी सुरक्षा न करना सबसे बड़ी लापरवाही है। पौधे लगाकर फोटो तो खिंचाई जाती है,लेकिन उन्हें पानी मिल रहा है या नहीं ये कोई देखने नहीं जाता है। पौधों की सुरक्षा करना हम सबका कर्तव्य है।"

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहांक्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top