यूपी के लिकर किंग की गाड़ियों से करोड़ों रुपये बरामद

यूपी के लिकर किंग की गाड़ियों से करोड़ों रुपये बरामदपौंटी चड्ढा ग्रुप की गाड़ियों से नोट जब्त करने के बाद थाने में पूछताछ करते पुलिस अधिकारी।

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काले कुबेरों के खिलाफ छेड़े अभियान में कई धन कुबेर देश भर में अबतक पकड़ में आ चुके हैं, लेकिन यूपी में पकड़े जा रहे नोटों से शायद लग रहा है कि, अब भी यहां के काले धन कुबेर सरकार की आंखों में धुल झोंकने का काम कर रहे हैं। मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का है, जहां तड़के शनिवार की सुबह हसनगंज स्थित डालीगंज पुल पर पुलिस चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान उन्हें सूचना मिली की दो लग्जरी कारों से करोड़ों का धन बाहर भेजा जा रहा है। सूचना मिलते ही पुलिस ने सक्रियता दिखाई और दोनों कारों को चेकिंग के दौरान पकड़ लिया। इन गाड़ियों की जांच में सात बंद गत्ते की पेटियां बरामद हुई, जिसे पूरी तरह सील करके रखा गया था। मामले की जानकारी तत्काल मातहतों ने आलाधिकारियों को दी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने जब ड्राइवर से इस बाबत पूछताछ की, तो मालूम चला की दोनों गाड़ियां पौंटी चड्ढा ग्रुप की है और इसे उत्तराखंड के हल्द्वानी ले जाया जा रहा था। सूत्रों की माने तो चड्ढा ग्रुप के तीनों कर्मचारियों ने पूछताछ में बताया है कि गाड़ियों में नोटों से भरे गत्ते हैं, जिन्हें हल्द्वानी पहुंचाना था। करीब साढ़े सात करोड़ के आस-पास नई करेंसी बताई जा रही है, जिसकी सूचना पुलिस ने आयकर विभाग के अधिकारियों को दे दी है।

काले धन पर सस्पेंस

एएसपी ट्रांसगोमती दुर्गेश कुमार के मुताबिक, हसनगंज कोतवाली क्षेत्र के डालीगंज क्रासिंग पर करीब सुबह 4:30 बजे पुलिस ने दो लग्जरी कारों से गत्ते बंद पेटियों से करोड़ों रुपये बरामद किए हैं। करेंसी की जांच आयकर विभाग कर रहा है। पकड़े गये कर्मचारी राजेश और अवधेश समेत अन्य कर्मचारियों से पूछताछ जारी है। हालांकि की अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह धन काला या सफेद है, क्योंकि पकड़े गए कर्मचारियों का कहना है कि यह नोट प्रदेश भर के शराब के ठेकों के कलेक्शन से एकत्र किए हुए हैं। वहीं इस बाबत चड्ढा ग्रुप के अधिकारियों ने बात करने से इनकार कर दिया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top