नीति आयोग के साथ मिलकर करेंगे यूपी का विकासः योगी

नीति आयोग के साथ मिलकर करेंगे यूपी का विकासः योगीमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास के लिए नीति आयोग बढ़ चढ़ कर मदद करेगा।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास के लिए नीति आयोग बढ़ चढ़ कर मदद करेगा। हम प्रदेश की विकास दर को 7.9 को बढ़ा कर दहाई की संख्या में ले जाएंगे, जिसके लिए प्रदेश के गाँवों का विकास, अशिक्षा और कुपोषण जैसी बुराइयों को दूर किया जाएगा। नीति आयोग के साथ मिल कर प्रदेश में विकास की गंगा बहाई जाएगी।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया के नेतृत्व में नीति आयोग के साथ में केंद्र सरकार से 25 सदस्यीय शिष्टमंडल मंगलवार को राजधानी पहुंचा। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ इस प्रतिनिधिमंडल ने सात बिंदुओं पर प्रदेश के विकास को लेकर बातचीत की, जिसमें खेती, ग्रामीण विकास कुपोषण, अशिक्षा, बुंदेलखंड को मुख्य बिंदु पर रखा गया।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सीएम योगी ने इस संबंध में शाम को हुई प्रेस वार्ता में बताया कि, प्रदेश की विकास दर को 7.9 बढ़ा कर दहाई अंकों तक ले जाना होगा। इसमें नीति आयोग की अहम संस्तुतियों को अमल में लाना बहुत अधिक आवश्यक होगा। इस संबंध में एक छह सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया गया है। इस कमेटी में तीन सदस्य राज्य से और तीन नीति आयोग के सदस्य होंगे। मुख्य रूप से प्रदेश पलायन रोकने, बुंदेलखंड को पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से जोड़ने, नया लैंड बैंक बनाने, बुंदेलखंड में अन्ना पशु प्रथा को रोकने पर काम होगा।

पानी के लिए केन बेतवा परियोजना का विस्तार होगा। इन सारी परियोजनाओं पर बहुत जल्द ही काम शुरू होगा। नीति आयोग के उपाघ्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने कहा कि यूपी को अगर एक देश मान लिया जाए तो वह दुनिया का पांचवा सबसे बड़ा देश बनेगा। इसलिए यूपी का अलग से ख्याल रखना जरूरी होगा। उदाहरण निकल कर सामने आया है। प्रधानमंत्री भी यूपी को आगे बढ़ाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री इसको देख रहे हैं। अगर सरकार आगे कदम बढ़ा रही है तो बजट की तंगी वाली बात बहुत छोटी होती है।सरकार इसके रास्ते निकाल सकती है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.