यूपी: तीन जिलों में पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश गिरफ्तार, एक ढेर

यूपी: तीन जिलों में पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश गिरफ्तार, एक ढेरफोटो साभार: इंटरनेट

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल में कहा था कि निर्दोषों को छेड़ेंगे नहीं और दोषियों को छोड़ेंगे नहीं। सीएम के इसी निर्देश पर कार्रवाई करते हुए पुलिस कुख्यात बदमाशों पर कहर बनकर टूटी है। बीते तीन दिनों में उत्तर प्रदेश के तीन जिलों में पुलिस की बदमाशों के साथ मुठभेड़ हुई, जिसमें दो इनामी बदमाशी गिरफ्तार हुए, जबकि एक इनामी बदमाश को पुलिस ने मौके पर ही मार गिराया।

बाराबंकी: 25 हजार का इनामी दबोचा

बाराबंकी के जैदपुर थाना क्षेत्र के हरख रोड पर गुरुवार देर रात वाहनों की चेकिंग के दौरान बाइक पर बैठे दो बदमाशों ने पुलिस टीम पर अचानक फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में एक बदमाश घायल हो गया। पकड़ा गया बदमाश राइस अहमद आजमगढ़ जिले के सरायमीर का रहने वाला है और उस पर 25 हजार का इनाम है।

दूसरा मौके से फरार

मुठभेड़ में दूसरा मौके से फारर हो गया। फरार चल रहे आरोपी के खिलाफ डकैती, हत्या, लूट जैसे करीब डेढ़ दर्जन आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। वारदात में सिपाही सर्वेश सिंह, अमित सिंह और आशीष तिवारी घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जैदपुर में भर्ती करवाया गया है। बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार सिंह ने बताया, “दो लोग पुलिस टीम को देखकर भागने लगे और फिर पुलिस ने उनका पीछा किया तो उन्होंने पुलिस पर गोली चला दी, जिसमें बाद में पुलिस ने अपने बचाव में आरोपी पर गोली चला दी।“

यह भी पढ़ें: आधुनिक सुरक्षा उपकरणों से लैस होगा यूपी पुलिस का सिग्नेचर भवन

संभल: 15 हजार के इनामी फैसल गिरफ्तार

यूपी के संभल जिले में पुलिस ने गुरुवार को ही 15 हजार के इनामी लुटेरे बदमाश फैसल को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। वहीं बदमाशों की गोली लगने से एक दारोगा और सिपाही भी घायल हो गए। घायल पुलिसकर्मियों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कुछ दिन पहले पूर्व नरौली में सर्राफा व्यापारी से हुई लाखों रुपए की लूट में पुलिस को इसकी तलाश थी।

शामली: एक लाख का इनामी बदमाश मार गिराया, एक जवान शहीद

बीते मंगलवार को पुलिस ने शामली के कैराना में कुख्यात मुकीम उर्फ काला गैंग के शार्प शूटर एक लाख के इनामी बदमाश साबिर जंधेड़ी को मार गिराया। इस मुठभेड़ में कैराना कोतवाल भगवत सिंह और सिपाही अंकित तोमर गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बाद में सिपाही अंकित तोमर की इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें: लखनऊ में यूपी के पहले पुलिस विश्‍वविद्यालय बनाने की चल रही है योजना

चारा घोटालाः फिर टला लालू पर फैसला, कल दोपहर दो बजे सजा का होगा ऐलान

Share it
Top