महिला थाने में गिले-शिकवे भूल दो जोड़े हो गए साथ

महिला थाने में गिले-शिकवे भूल दो जोड़े हो गए साथएच्छिक ब्यूरो में दो दपंत्ति ने साथ में रहने के लिए हामी भरी।

इश्त्याक खान, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। पति-पत्नी के बीच चल रहे विवाद को सुलझाने के लिए रविवार को एच्छिक ब्यूरो में 18 दंपत्ति को बुलाया गया, जिसमें दो दपंत्ति ने साथ में रहने के लिए हामी भरी। जबकि 4 जोड़ों ने साथ रहने से इंकार कर दिया। एच्छिक ब्यूरो में बाकी 12 जोड़ों के बीच सामंजस्य न बन पाने के कारण उन्हें सोचने-समझने का मौका दिया गया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

कोर्ट में चल रहे दहेज उत्पीड़न, मेंटीनेंस, घरेलू हिंसा के मामलों को पति-पत्नी के बीच वार्ता कर सुलझाने के लिए महिला थाने में एच्छिक ब्यूरो में दोनों को मिलाया जाता है। रहीसुददीन पुत्र नसरूददीन निवासी इस्लाम नगर बाबरपुर अजीतमल का अपने दामाद सलीम निवासी रसूलपुर गली नं.7 फिरोजाबाद और पुत्री के बीच विवाद हो गया था।

जिससे दोनों ने एक-दूसरे से अलग रहने की ठान ली। लेकिन एच्छिक ब्यूरो में दोनों ने परिवारीजनों के बीच एक साथ रहने की इच्छा जाहिर की। वहीं निशा बानो पुत्री रहीश अली निवासी ग्राम रठगांव बिधूना का अपने पति शाकिर अली पुत्र इस्माइल अली निवासी शहबाजपुर के बीच विवाद होने पर दोनों अलग-अलग रह रहे थे। लेकिन एच्छिक ब्यूरो में दोनों एक साथ रहने को तैयार हो गए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top