योगी ने कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर अखाड़ा परिषद से किया विचार विमर्श

योगी ने कुंभ मेले की तैयारियों को लेकर अखाड़ा परिषद से किया विचार विमर्शयोगी आदित्यनाथ।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माघ मेला और आगामी प्रयाग कुम्भ मेला-2019 की तैयारियों के सम्बन्ध में अखाड़ा परिषद और इलाहाबाद प्रशासन के साथ आज विचार-विमर्श किया।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने आज रात यहां इस संबंध में बताया कि मुख्यमंत्री ने इस बैठक के दौरान कहा कि प्रदेश के लिए यह एक महत्वपूर्ण आयोजन है, जिस पर पूरे विश्व की निगाह रहती है। ऐसे में इसकी सभी तैयारियां समय से और पुख्ता ढंग से की जाएं। माघ मेला और आगामी प्रयाग कुम्भ मेला-2019 आस्था और पर्यटन के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है।

ये भी पढ़ें - नए साल पर केंद्र सरकार का तोहफा, पूर्वोत्तर में जल्द मिलेगी मोबाइल हवाई डिस्पेंसरी

उन्होंने अखाड़ा परिषद को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार द्वारा प्रयाग कुम्भ की तैयारी पूरी संजीदगी एवं समयबद्धता के साथ की जा रही है। कुम्भ मेले की सभी व्यवस्थाएं समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि माघ मेला, कुम्भ-2019 का पूर्वाभ्यास है। उन्होंने जिला प्रशासन को माघ मेले में सुरक्षा और श्रद्धालुओं की सुविधा के सभी जरुरी इंतजाम समय रहते किए जाने के निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें - नव वर्ष पर नैनीताल के 12 हजार किसानों की लगी लाटरी

उन्होंने कहा कि कुम्भ-2019 में श्रद्धालुओं की अच्छी सुविधाओं तथा इसके भव्य आयोजन के लिए ही प्रयागराज मेला प्राधिकरण, इलाहाबाद गठित किया गया है। योगी ने कहा कि कुम्भ मेले ने संयुक्त राष्ट्र का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है। इसका उदाहरण यूनेस्को द्वारा कुम्भ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर की सूची में शामिल किया जाना है।

ये भी पढ़ें - तस्वीरों में देखिए दुनिया भर में इस तरह मनाया गया नया साल

Share it
Share it
Share it
Top