यूपी पुलिस में जल्द होंगी एक लाख से ज्यादा भर्तियां, लेकिन बदल गए हैं नियम

यूपी पुलिस में जल्द होंगी एक लाख से ज्यादा भर्तियां, लेकिन बदल गए हैं नियमयूपी पुलिस प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ। पुलिस में नौकरी करना उत्तर प्रदेश में अधिकतर युवाओं का सपना होता है। यूपी पुलिस की भर्ती में अभी तक वर्तमान प्रक्रिया में बीजेपी ने सरकार ने कुछ बदलाव किए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में पुलिस भर्ती के नियमों में फेरबदल करते हुए यह तय किया कि अब कांस्टेबल की भर्ती के लिए केवल लिखित परीक्षा होगी और उसी के आधार पर चयन होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में यह फैसला किया गया। एक लाख से ज्यादा प्रदेश में कांस्टेबल के पद रिक्त हैं।

बैठक के बाद राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा, "पुलिस भर्ती के कुछ नियम बदले गये हैं। अब पुरुष वर्ग में 18 से 22 वर्ष और महिला वर्ग में 18 से 25 वर्ष आयु के अभ्यर्थी कांस्टेबल पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।" उन्होंने कहा कि पहले दसवीं पास के लिए 100 अंक, 12वीं पास के लिए 200 अंक और शारीरिक दक्षता के लिए 200 अंक जोड़ने की व्यवस्था थी। इस व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया है और अब केवल लिखित परीक्षा होगी। उसके बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा भी पास करनी होगी।

ये भी पढ़ें:- खुशखबरी : यूपी पुलिस में जल्द होगी 3500 एसआई की भर्ती

शारीरिक दक्षता परीक्षा के नहीं जुड़ेंगे अंक

शर्मा ने कहा कि शारीरिक दक्षता के मानक पूर्ववत रहेंगे, लेकिन इसके अंक जुड़ेंगे नहीं बल्कि इसे केवल पास करना भर पर्याप्त होगा। लेकिन यदि इसमें फेल हो गये तो भर्ती प्रक्रिया से बाहर होना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि लिखित परीक्षा में 'नेगेटिव मार्किंग' होगी और इसका अनुपात भर्ती बोर्ड तय करेगा। शर्मा ने बताया कि नयी व्यवस्था में 300 अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे, जिनमें नेगेटिव अंक की व्यवस्था होगी।

ये भी पढ़ें:- आज ही के दिन 75 साल पहले शुरू हुआ था भारत छोड़ो आंदोलन, देखें... तब की तस्वीरें

दौड़ के समय में किया गया बदलाव

प्रेस कांफ्रेंस में प्रमुख सचिव (गृह) अरविन्द कुमार ने कहा, "शारीरिक दक्षता परीक्षा में दौड़ के मानक अब पहले से कड़े कर दिये गये हैं। पुरुष वर्ग में 4.8 किलोमीटर की दौड़ अब 27 मिनट की बजाय 25 मिनट में पूरी करनी होगी। इसी तरह महिला वर्ग में 2.4 किलोमीटर की दौड़ 16 मिनट की बजाय 14 मिनट में पूरी करनी होगी।

ये भी पढ़ें:- स्टिंग ऑपरेशन : पुलिस चौकी के पीछे मसाज पार्लर की आड़ में चल रहा सेक्स रैकेट

कांस्टेबल के एक लाख से ज्यादा पद रिक्त

प्रमुख सचिव (गृह) अरविन्द कुमार ने बताया कि कांस्टेबल के कुल एक लाख एक हजार पद रिक्त हैं और इन्हें चरणबद्ध ढंग से भरने का प्रयास किया जाएगा। इस सवाल पर कि क्या पुलिस के प्रशिक्षण की प्रक्रिया में भी बदलाव किया जाएगा, कुमार ने कहा कि यह सरकार की प्राथमिकता में पहले से है।

एक साथ होगी पुरुष-महिला भर्ती

पहले पुरुष व महिला सिपाही की भर्ती अलग-अलग आयोजित की जाती थी। अब एक साथ कराई जाएगी। पुरुषों के लिए उम्र सीमा 18-22 होगी जबकि महिलाओं के लिए 18-25 वर्ष होगी।

ये भी पढ़ें:- डीजीपी ने प्रदेश के अफसरों की क्लास ली,कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने का पाठ पढ़ाया

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top