नाइजीरियाई मामला: सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप के बाद एक्शन में योगी सरकार, पांच आरोपी गिरफ्तार

नाइजीरियाई मामला: सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप के बाद एक्शन में योगी सरकार, पांच आरोपी गिरफ्तारहमले में घायल अफ्रीकी मूल का छात्र।

नई दिल्ली। ग्रेटर नोएडा में नाइजीरियन स्टूडेंट पर हुए हमले के मामले में आज उत्तर प्रदेश पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। शनिवार को भीड़ ने कैंडल मार्च निकाल रहे चार नाइजीरियन छात्रों पर हमला कर दिया था। ये कैंडल मार्च 17 वर्षिय छात्र के मौत के विरोध में निकाला जा रहा था। एडीजी लॉ दजलीत चौधरी ने बताया कि पुलिस पे पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इन पर एफआईआर दर्ज की ली गई है पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

25 मार्च को ग्रेटर नोएडा की एक सोसायटी में रहने वाले छात्र मनीष खारी की मौत हो गई थी। बताया जा रहा है कि उसकी मौत ड्रग्स के ओवरडोज से हुई है। क्योंकि छात्र जब अपने घर आया, तो वह बेचैन था। उसे उल्टियां हो रही थी। अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी। उसके पिता ने नाइजीरियाई मूल के उस्मान अब्दुल कादिर, मोहम्मद आमिर, सईद कबीर, अब्दुल उस्मान और सईद अबु वकार के खिलाफ थाने में हत्या का केस दर्ज कराया था।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने नोएडा में अफ्रीकी छात्रों पर हुए कथित हमले के बारे में आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से बात की। विदेशी छात्रों में से एक ने मामले में त्वरित कार्रवाई की मांग करते हुए सुषमा को ट्वीट किया था और कहा था कि क्षेत्र में रहना अब ‘‘जीवन को खतरे में डालने'' वाला मुद्दा बनता जा रहा है।

सुषमा ने कहा, केंद्र सरकार तुरंत कदम उठा रही है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने उन्हें इस ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण'' घटना की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है। सुषमा ने ट्वीट किए, ‘‘मैंने ग्रेटर नोएडा में अफ्रीकी छात्रों पर हुए हमले के बारे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से बात की। उन्होंने इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है।'' इस संबंध में एक छात्र ने उन्हें ट्वीट किया था कि ‘‘हमारे लिए नोएडा में रहना अब जीवन को जोखिम में डालने वाला मुद्दा बनता जा रहा है'' सुषमा ने जवाब में कहा कि केंद्र सरकार मामले से अवगत है। विदेश मंत्री सुषमा ने कहा, ‘‘हम तुरंत कार्रवाई कर रहे हैं।''

विरोध प्रदर्शन भी किया जा रहा।

इस मामले पर कैबिनेट मंत्री व पार्टी के आधिकारिक प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बयान दिया है। मंत्री ने कहा कि नाइजीरियाई छात्रों पर हमला बेहद गंभीर मामला है। इसमें पूरी जांच कराई जाएगी। जल्द ही इस मामले की पूरी रिपोर्ट केंद्र सरकार को उपलब्ध करवाई जाएगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top