उत्तर प्रदेश में बनाए जाएंगे चार लाख आंगनबाड़ी केन्द्र

Swati ShuklaSwati Shukla   30 Jun 2016 5:30 AM GMT

उत्तर प्रदेश में बनाए जाएंगे चार लाख आंगनबाड़ी केन्द्रgaonconnection

लखनऊ। प्रदेश में कई पंचायतों में आंगनबाड़ी केन्द्र जैसे-तैसे चलाए जा रहे हैं। भवन को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री और शिक्षकों के बीच आपसी मतभेद होते हैं।

सरकार द्वारा गरीब बच्चों को कुपोषण से बचाने और प्राथमिक शिक्षा से जोड़ने के लिए आंगनबाड़ी योजना की शुरुआत की गई थी, जिससे शिक्षा के साथ-साथ स्वास्थ्य में भी सुधार हो, लेकिन पर्याप्त आंगनबाड़ी केन्द्र न होने से आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री अपना उद्देश्यों को पूरा नहीं कर पा रही हैं। सुविधा न होने के कारण गाँव की महिलाएं अपने बच्चों को आंगनबाड़ी केन्द्र भेजना नहीं चाहती हैं।

महिलाऔर बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है, 2019 तक चार लाख आंगनबाड़ी केन्द्र मनरेगा के तहत बनाए जा रहे हैं, जिनमें शौचालय और पीने के पानी की व्यवस्था होगी। 

आने वाले तीन वर्षों में सभी पंचायतों में आंगनबाड़ी केन्द्र होंगे। वर्तमान समय में 70 हजार आंगनबाड़ी केन्द्र बन रहे हैं। भवन निर्माण की योजना बनाई जा चुकी है। कार्य तेजी से किया जा रहा है।

बाराबंकी जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर बंकी ब्लॉक के दरियालपुर कि आंगनबड़ी कार्यकर्त्री बताती हैं, “यहां पर बच्चों को पढ़ाने के लिए आये दिन प्राथमिक विद्यालय की शिक्षिका से लड़ाई करनी पड़ती है, बच्चों को जबरदस्ती वहां पढ़ाते हैं। गाँवों में जब बच्चों को बुलाने जाते हैं तो अभिभावक कहते हैं बैठने की जगह नहीं है इसलिए बच्चों को नहीं भेजेंगे।” वह आगे बताती हैं, “ भवन निर्माण के लिए प्रस्ताव जारी हो चुका है। लेकिन प्रधान भवन निर्माण के लिए जगह नहीं दे रहे हैं। गाँव के लोग अपने बच्चों को यहां भेजने में आनाकानी करते हैं।”

भारत के बहुत राज्यों में आंगनबाड़ी केन्द्रों को आज तक अपना भवन नसीब नहीं हुआ है। वहीं कई पंचायतों में आंगनबाड़ी केन्द्रों के बनने के प्रस्ताव आ चुके हैं, लेकिन प्रधान के द्वारा केन्द्र निर्माण के लिए जगह नहीं उपलब्ध कराई जा रही है। वहीं दूसरी तरफ भवन निर्माण कार्य भी अधूरा पड़े हैं। एनसीआरटी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में एक लाख 12 हजार आंगनबाड़ी केंद्र चलाये जा रहे हैं, जिसमें से 80 हजार केन्द्र प्राइमरी स्कूल में चलाए जा रहे हैं। महिला और बालविकास मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में 14 लाख आंगनबाड़ी भवन बने हैं। राज्य पोषण मिशन के अपर परियोजना अधिकारी ने कहा है, आंगनबाड़ी केन्द्रों के निर्माण के लिए प्रस्ताव आ गया। ऑनलाइन सूचना डाली जा रही है। जिसके अर्न्तगत कार्य किया जा रहा है।

 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top