स्वयं फेस्टिवल के दौरान लोगों को जागरुक करेगी यूपी पुलिस, जनता से दूरियां कम करने की कोशिश

स्वयं फेस्टिवल के दौरान लोगों को जागरुक करेगी यूपी पुलिस, जनता से दूरियां कम करने की कोशिशस्वयं फेस्टिवल के लिए पुलिसकर्मियों को जानकारी देते एएसपी राहुल श्रीवास्तव।

लखनऊ। पुलिस का काम लोगों की मदद करना है पर हमारे देश में पुलिस की छवि ऐसी है कि अक्सर लोग पुलिस को अपना मददगार समझने के बजाए उससे डरते हैं, पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट लिखाने से कतराते हैं और पुलिस से दूर ही रहने की कोशिश करते हैं...स्वयं फेस्टिवल की मदद से यूपी पुलिस अपनी छवि को तोड़ने की कोशिश कर रही है। स्वयं प्रोजेक्ट को लेकर पुलिस अधिकारी भी उत्साहित हैं, उनका कहा है कि इससे जनता और उनके बीच की दूरियां कम होंगी।

2 से 8 दिसंबर तक चलने वाले स्वयं फेस्टिवल के दौरान प्रदेश के 25 ज़िलों में पुलिस जनता के बीच जाकर उन्हें उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करेगी। इस दौरान लोगों को यूपी पुलिस की ओर से दी जा रही सुविधाओं, जैसे महिला हेल्पलाइन नंबर 1090, आपातकालीन पुलिस हेल्पलाइन नंबर यूपी 100, ई-एफआईआर, पुलिस की ट्विटर सेवा, साइबर क्राइम और पुलिस महिला सम्मान प्रकोष्ठ आदि के बारे में जानकारी दी जाएगी। इसके लिए इन सभी ज़िलों के पुलिसकर्मियों और स्वयं फाउंडेशन के वालंटियर्स की टीमें बनाई गई हैं। इन सभी वालंटियर्स और पुलिसकर्मियों को लखनऊ में चली दो दिन की वर्कशॉप में ट्रेनिंग दी गई है, ताकि ये अपने-अपने क्षेत्रों में लोगों को सही और विस्तृत जानकारी दे सकें।

Share it
Top