विश्व का सबसे पसंदीदा एेप बना व्हाट्सएेप

विश्व का सबसे पसंदीदा एेप बना व्हाट्सएेपgaonconnection

लखनऊ। सेंसर टावर के आंकड़ों के मुताबिक विश्व में सैकड़ों एेप आईफोन, एंड्रॉइड या स्मार्ट फोन पर मौजूद है। लेकिन व्हाट्सएेप का उपयोग करने वाले यूजरों की संख्या सबसे अधिक है। मई 2016 में 4.12 करोड़ लोगों ने व्हाट्सऐप को डाउनलोड किया। जबकि मैसेंजर को 3.93 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया। वहीं फेसबुक को 3.6 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया। इसके अलावा अन्य ऐप की डाउनलोडिंग काफी कम है। वहीं दूसरी तरफ अमेरिका में अपने पसंदीदा ऐप पर लोग हर महीने 40 घंटे खर्च करते है, लेकिन भारत में पंसदीदा ऐप पर लोग इससे दोगुना लगभग 85 से 90 घंटे हर माह खर्च करते है। 

मऊ जनपद से 22 किमी. दूर ग्राम पंचायत रतनपुरा निवासी पंकज वर्मा ने बीएड किया। जॉब नहीं मिलने पर वह अपनी पुश्तैनी धंधा जुलरी बनाने और बेचने का करने लगा। पंकज ने एक वर्ष पूर्व एंड्रॉयड मोबाइल फोन खरीदा। पहले उसने फेसबुक चलाने का ढंग सीखा लेकिन बाद में वह अपना अधिकतर कार्य व्हाट्सऐप के माध्यम से करने लगा।

“व्हाट्सएप्प चलाना अच्छा लगता है। सबसे बड़ी बात है कि किसी को भी यदि मैसेज भेजा जाता है तो यह पता चल जाता है कि उसे मिला है या नहीं। व्हाट्सऐप का सिम्बल बताता रहता है।” पंकज वर्मा ने फोन पर बताया।

कुछ ऐसी ही कहानी शक्ति भवन में जूनियर इंजीनियर दीपक शर्मा की है। ''साधारण परिवार में पैदा हुआ। घर की माली स्थिति सामान्य थी। इसके बाद भी मोबाइल नसीब नहीं हुआ। दो वर्ष पूर्व मोबाइल नसीब हुआ तो वह साधारण मोबाइल था। छह माह पूर्व एंड्रॉइड मोबाइल फोन चलाने का ढंग सीखा। सबसे अच्छा व्हाट्सऐप चलाना लगता है। मोबाइल में यदि व्हाट्सऐप तकनीकी कारणों से बंद हो जाता है तो लगता है कि जैसे कुछ भूल गया है।“ दीपक शर्मा ने बताया।

अहम बात है कि शहर का कोई भी ऑफिस हो या पुलिस अधिकारी। हर किसी के लिये व्हाट्सऐप अब महत्तवपूर्ण हो गया है। ऑफिस का मालिक अपने कर्मचारियों का एक ग्रुप बना लेता है। ग्रुप के माध्यम से हर सुचनायें वह अपने कर्मचारियों को प्रदान कराता रहता है। इसके पीछे कारण यह होता है कि एक बार के लिखने में सभी कर्मचारी उस मैसेज को पढ़ लेते है और उनके ऊपर अमल कर अपना कार्य करते है। वहीं इससे समय की बचत भी होती है। 

चैट करना भी आसानपहले फेसबुक पर चैट करने के लिये लोगों को कम्प्यूटर का सहारा लेना पड़ता था। लेकिन व्हाट्सएेप के आ जाने से लोग जब चाहे जहां चाहे चैट करते रहते है। इससे चैट करने वाले व्यक्ति का भी समय बचता है और कोई जान भी नहीं पाता है। 

Tags:    India 
Share it
Top