व्यवसाय का बीमा कराएं और चिंता मुक्त रहें

व्यवसाय का बीमा कराएं और चिंता मुक्त रहेंgaonconnection

बीमा या इंश्योरेंस सिर्फ एक अच्छा आईिडया ही नहीं बल्कि एक आवश्यकता है और जब बात हो व्यवसाय बीमा की तो बिलकुल ही देर नहीं करनी चाहिए। क्योंकि इस पर आप और आपके सम्पूर्ण परिवार की आर्थिक एवं भावनात्मक दशा निर्भर करती है। इसे बनाने में आपकी कड़ी मेहनत एवं निष्ठा समाहित होती है जिसका आप किसी भी परिस्थिति में नुकसान होते नहीं देखना चाहेंगे।

व्यवसाय बीमा या बिज़नेस इंश्योरेंस पॉलिसी का मुख्य उद्देश्य किसी दुर्भाग्यपूर्ण वजह से रोज़गार में आर्थिक या व्यक्तिगत क्षति के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करना है। यह आपके व्यवसाय को विभिन्न प्रकार की क्षति जैसे-चोरी, आग, दंगा, बिजली या किसी आकस्मिक घटना की वजह से होने वाले आर्थिक एवं भौतिक क्षति के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है। एक अच्छा जोखिम प्रबंधन किसी भी व्यापार की सफलता की कुंजी होता है। लेकिन दुर्भाग्यवश छोटे व्यवसायी बीमा के इस महत्व को अभी तक नहीं समझ पाए हैं।

आपके छोटे व्यवसाय के लिए उचित बीमा न होना एक भूल है, क्योंकि किसी भी आपदा से आपकी कम्पनी स्थाई रूप से बन्द हो सकती है, या फिर आपकी सम्पत्ति को बहुत ही अधिक क्षति पहुंच सकती है। अमेरिका के न्यूयार्क शहर में स्थित इन्श्योरेंस इन्फॉर्मेशन इन्स्टीट्यूट के एक अनुमान के अनुसार छोटे व्यवसाय चलाने वाले लगभग 40 फीसदी व्यवसायियों द्वारा कोई भी बीमा नहीं करवाया गया है।

इसका कारण यह है कि व्यवसाय बीमा के सम्बन्ध में एक गलत अवधारणा यह है कि यह बहुत महंगा है पर ये सही नहीं है। बिना बीमा के आप अनावश्यक रूप से अपनी आजीविका को खतरे में डाल रहे हैं। भवन मालिकों, आपूर्तिकर्ताओं, और अन्य इकाईयों जिनके साथ आप कार्य करते हैं, संभवत: वह यह अपेक्षा करते हैं कि आप उन्हें सुरक्षा कवरेज प्रदान करें।

आपके लिए बीमा

  • व्यवसाय स्वामी बीमा
  • सामान्य देयता (लायबिलिटी) बीमा
  • सम्पत्ति बीमा
  • पेशेवर देयता (भूल-चूक) बीमा
  • वाणिज्यिक वाहन बीमा
  • व्यवसाय आय/अतिरिक्त व्यय बीमा
  • उत्पाद देयता बीमा
  • अतिरिक्त उपकरण बीमा
  • विशेषज्ञ उपकरण बीमा

आपके एवं आपके कर्मचारियों के िलए बीमा

  • स्वास्थ्य बीमा 
  • अपंगता बीमा
  • जीवन बीमा 
  • महत्वपूर्ण (की-मैन) बीमा 
  • कामगार क्षतिपूर्ति बीमा

भिन्न व्यवसाय के लिए बीमा

व्यापार के आकार एवं ज़रूरतों के हिसाब से बाज़ार में भिन्न-भिन्न व्यवसाय बीमा उपलब्ध हैं। मरीन इंश्योरेंस से लेकर लघु एवं कुटीर उद्योग तथा कारखाना से लेकर छोटे व्यापारी तक के लिए बीमा उपलब्ध हैं। अब आप अपनी आवश्यकताओं के अनुसार बीमा पॉलिसी का चयन कर सकते हैं। पॉलिसी लेते समय यह सलाह दी जाती है कि अपने व्यवसाय के बारे में कभी भी किसी बात को न छुपाएं क्योंकि इससे क्लेम लेने में दिक्कत आ सकती है।

यदि आपको इस बात का फैसला करने में कठिनाई है कि आपके व्यवसाय के लिए किस प्रकार के बीमा की आवश्यकता है तो आप सम्बंधित कंपनी के एजेंट या प्रतिनिधि, काउन्टी या सिटी क्लर्क, आपके उद्योग की एसोसिएशन के स्थानीय चैप्टर या राज्य बीमा कार्यालय के एजेंट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। व्यवसाय बीमा लगभग समस्त जनरल इंश्योरेंस कम्पनियां करती हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top