यूपी के बलरामपुर ज़िले में बाढ़ से थमा जनजीवन

यूपी के बलरामपुर ज़िले में बाढ़ से थमा जनजीवनgaonconnection

बलरामपुर। भारत-नेपाल सीमा से सटे उत्तर प्रदेश के बलरामपुर ज़िले में राप्ती नदी व पहाड़ी नालों में आयी बाढ़ ने जिले के करीब 140 गांवों को अपने आगोश में ले लिया है। सड़कों पर पानी भरने से ज़िले से गुरजने वाले कई राजमार्ग पर भी आवागमन ठप हो गया है।

आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार नेपाल के चकरधडी बैराज से छोड़े गये पानी और रुक-रुक कर पहाड़ों पर हो रही तेज़ बारिश से राप्ती नदी का जलस्तर खतरे के निशान104.620 को पारकर 104.950 तक पहुँच गया। राप्ती नदी की बाढ़ से तटवर्ती आल्लीपुर,कटरा, पिपरा, जमुनहा, टेगंहेनिया, मानकोट, टेड्वा, बांकभवनि और खरझार, हेंगहा, भाभर समेत करीब एक दर्जन पहाड़ी नालों के उफान से मथुरा बाजार, कोडरी,कोडरी-ललिया,महराजगंज ललिया समेत ज़िले के लगभग दो दर्जन सम्पर्क मार्गों पर बाढ़ का पानी बहने से आवागमन बाधित है।

हालात बेकाबू होते देख बृहस्पतिवार को लोकनिर्माण मंत्री शिवपाल यादव ने क्षेत्र का हवाई दौरा कर अधिकारियों को बचाव और राहत कार्य में तेज़ी लाने के निर्देश दिए थे। जिले में बाढ़ से निपटने के लिये शासन ने एक करोड़ पच्चीस लाख धनराशि स्वीकृत की है। जबकि जिला प्रशासन ने तीन करोड़ के बजट की मांग की थी। बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने के लिए पीएससी और गोताखोरों को लगाया गया है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top