यूपी समेत कई राज्यों में बाढ़ का ख़तरा

यूपी समेत कई राज्यों में बाढ़ का ख़तराबाढ़ ख़तरा, यूपी समेत कई राज्य

लखनऊ। पूरे उत्तर प्रदेश में मानसून के सक्रिय होने के बाद हो रही झमाझम बारिश से नदियां खतरे के निशान के करीब बह रही हैं। घाघरा, शारदा, सुमली नदी के आसपास बसे इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। प्रशासन ने एहतियातन तराई इलाकों में अलर्ट घोषित कर दिया है।

प्रति घंटे दो सेंटीमीटर घाघरा नदी का जलस्तर के देख कर तराई इलाकों में हड़कंप मच गया है। उधर, लखीमपुर, सीतापुर, बाराबंकी और गोंडा जिले के कई गाँवों में पानी भर गया है। सीतापुर जिले के रामपुर मथुरा ब्लॉक के गाँव अंगरौरा निवासी दीपक तिवारी ने फोन पर बताया, “कई गावों में पानी भर गया है। हालांकि अभी तक कटान शुरू नहीं हुई है।”

घाघरा नदी एल्गिन ब्रिज पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। इसके अलावा अयोध्या और तुर्तीपार में इसका जलस्तर तेजी से खतरे के निशान के नजदीक पहुंच रहा है। गंगा नदी बलिया में लाल निशान के नजदीक पहुंच गयी है।

बाराबंकी के अपर जिलाधिकारी हरिकेश चौरसिया के अनुसार घाघरा नदी का जलस्तर फिर से बढ़ने के मद्देनजर बाढ़ चौकियों पर तैनात सभी कर्मचारियों को सतर्क कर दिया गया है। प्रभावित क्षेत्र की तहसीलों के उपजिलाधिकारियों को भी आदेश दिया गया है कि वह पूरी तरह से मुस्तैद रहें और नदी के जलस्तर पर बराबर नजर रखें।

लखनऊ के आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार दक्षिण-पश्चिमी मानसून पूरे प्रदेश में सक्रिय हो चुका है। वहीं पिछले दो दिनों में जलेसर में सबसे ज्यादा 31 सेंटीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। केन्द्रीय जल आयोग के अनुसार शारदा नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है।

पिछले दो दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के बाद लखीमपुर में बनवसा बैराज से 1.87 क्यूसेक, गिरिजापुरी से 1.34 क्यूसेक और शारदा बैराज सवा लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है।

Tags:    India 
Share it
Top