सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले लड़के को गूगल देगा हर साल 12 लाख रुपए सैलरी

सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले लड़के को गूगल देगा हर साल 12 लाख रुपए सैलरीचंडीगढ़ में रहने वाले हर्षित शर्मा को गूगल ने दी एक करोड़ रुपए की नौकरी (फोटो साभार : इंटरनेट)

लखनऊ। हम किसी भी चीज को लेकर एक धारणा बना लेते हैं मसलन प्राइवेट और कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे सरकारी स्कूल के स्टुडेंट्स से बेहतर होते हैं लेकिन चंडीगढ़ के एक सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले हर्षित शर्मा ने इस मिथक को तोड़ा है।

16 साल के हर्षित शर्मा को गूगल ने 1.44 करोड़ के वार्षिक सैलरी पैकेज पर हायर किया है। हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, ‘हर्षित शर्मा यूएस में कंपनी के ग्राफिक डिजाइनिंग टीम को जॉइन करेंगे।’

ये भी पढ़ें- किसी ने इंजीनियरिंग तो किसी ने गूगल की नौकरी छोड़ शुरू की खेती, मिलिए ऐसे किसानों से

च‍ंडीगढ़ के सेक्टर 33 स्थित सरकारी मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल (जीएमएसएसएस) में पढ़ने वाले हर्षित कंपनी के साथ एक साल की ट्रेनिंग के लिए जाएंगे। इस दौरान उन्हें चार लाख रुपए प्रति महीने स्टाइपेंड मिलेगा जबकि एक साल बाद ट्रेनिंग खत्म होने पर 12 लाख रुपए महीना मिलेगा।

हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में हर्षित ने बताया, ‘मैं ऑनलाइन जॉब के लिए सर्च करता रहता हूं। मैंने मई में इस जॉब के लिए अप्लाई किया और ऑनलाइन इंटरव्यू दिया। मेरा पिछले 10 साल से ग्राफिक्स डिजाइन में इंट्रेस्ट रहा है। मेरा चयन भी मेरे द्वारा डिजाइन किए गए पोस्टर के आधार पर हुआ। हर्षित स्कूल के दौरान मैंने बॉलीवुड और हॉलीवुड स्टार्स के कई पोस्टर बनाते थे और उनसे करीब 40 से 50 हजार रुपए कमाई अब तक कर चुके हैं।

ये भी पढ़ें- एक महिला इंजीनियर किसानों को सिखा रही है बिना खर्च किए कैसे करें खेती से कमाई

हर्षित हरियाणा के कुरुक्षेत्र के मथाना से आते हैं। ग्यारहवीं कक्षा में उन्होंने इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) से पढ़ाई की। उन्हें प्रधानमंत्री डिजिटल इंडिया स्कीम के तहत 7000 रुपए ईनाम भी मिल चुके हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top