फोटोग्राफी : शौक के साथ बनायें करियर

आज जब हर हाथ में मोबाइल फोन, तब फोटोग्राफी सिर्फ शौक नहीं, बल्कि एक उभरता हुआ करियर भी है।

फोटोग्राफी : शौक के साथ बनायें करियर

शेफाली त्रिपाठी, गाँव कनेक्शन

लखनऊ। आज कल के समय में जब हर हाथ में मोबाइल कैमरा है, ऐसे समय में फोटोग्राफी को लेकर लोगों में काफी रुचि बढ़ गई है, खासकर युवाओं में। अब फोटोग्राफी सिर्फ एक शौक ही नहीं रह गया, बल्कि बहुत से लोग इससे काफी अच्छी आमदनी भी कर रहे हैं। युवा किस तरह से फोटोग्राफी में अच्छा कॅरियर बनाएं, ये जानने के लिए हमने बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी के जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन विभाग के अध्यक्ष डॉ. गोविन्द पाण्डेय से खास बातचीत की।

डॉ. गोविंद पाण्डेय, विभागाध्यक्ष, जर्नलिज्म एंड मास कॉम, बीबीएयू

डॉ. गोविंद पाण्डेय बताते हैं,"हमारे देश में फोटोग्राफी एक सब्जेक्ट के रूप में पढ़ाया जाता है। कुछ यूनिवर्सिटी में फोटोग्राफी को एक हॉबी सेंटर के रूप में रखा गया है। साथ ही कुछ यूनिवर्सिटी में फोटोग्राफी के लिए डिप्लोमा कोर्सेस चलते हैं। जिससे कि कोई भी अगर फोटोग्राफी में कॅरियर बनाना चाहता है तो इन कोर्सेस को कर सकता है।"

डॉ. गोविंद कहते हैं, "फोटोग्राफी को प्रैक्टिकल रूप में करने के साथ-साथ उसकी थ्योरी को जानना भी बहुत जरूरी है। इससे अच्छी फोटोग्राफी करने में काफी मदद मिलेगी।"

फोटोग्राफी में किस तरह से बेहतर कॅरियर बनाया जाए, इस बारे डॉ. गोविन्द पांडेय ने गाँव कनेक्शन को बताया, "अगर कोई युवा जिसने बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन किया हो, तो उनके पास फोटोग्राफी में कॅरियर बनाने का अच्छा मौका होता है। साथ ही एमए जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन में भी फोटोग्राफी एक विषय के रूप में पढ़ाया जाता हैं।"

ये भी पढ़ें- पढ़ाई के समय 45 मिनट पर एक ब्रेक जरूरी

डॉ. गोविंद बताते हैं, "अगर कोई बैचलर इन फाइन आर्टस (बीएफए) करने के बाद एमए जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन कर लेता है, तो उसके पास कॅरियर के बेहतर विकल्प हो जाते हैं। बीएफए करने के बाद छात्र में फोटोग्राफी को लेकर समझ बढ़ जाती है। उसके पास फिल्म इंडस्ट्री से लेकर मॉडलिंग इंडस्ट्री में अपना कॅरियर बनाने का मौका होता है।"

उन्होंने आगे बताया, "इसके साथ ही वह अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकता है, जिसमें वह शादियों में प्री-वेडिंग शूट या फिर वेडिंग शूट करके अच्छा पैसा कमा सकता है। यह आज कल के समय में उभरता हुआ कॅरियर है।"

"इसके आलावा अगर कोई व्यक्ति अच्छा फोटोग्राफर है,तो वह अपनी फोटो को सोशल साइट पर बेच कर अच्छा पैसा कमा सकता है। इसके साथ ही बहुत सी प्रतियोगिताएं भी ऐसी आयोजित हैं, जिसमें अच्छी फोटोग्राफी को पुरस्कृत किया जाता है।" डॉ. गोविन्द पांडेय ने बताया।

ये हैं फोटोग्राफी कोर्सेस

- बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन

- बैचलर ऑफ़ फाइन आर्ट

- मास्टर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन

- मास्टर इन फाइन आर्ट, इसके साथ ही कुछ यूनिवर्सिटी के द्वारा डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेज भी कराए जाते हैं।

यहां से कर सकते हैं कोर्स

- दिल्ली कॉलेज ऑफ़ फोटोग्राफी, नई दिल्ली

- लाइट एंड लाइफ अकादमी, ऊटी

- जवाहरलाल नेहरू आर्किटेक्चर एंड फाइन यूनिवर्सिटी, हैदराबाद

- एशियाई अकादमी ऑफ़ फिल्म एंड टेलीविज़न, नोएडा

- उस्मानिया यूनिवर्सिटी, हैदराबाद

- नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ डिज़ाइन, अहमदाबाद

- बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी, लखनऊ

ये भी पढ़ें- कम समय में टीईटी परीक्षा की ऐसे करें तैयारी

शैक्षणिक योग्यताएं

प्रोफेसर डॉ. गोविंद पाण्डेय बताते हैं, "फोटोग्राफी के कोर्स के लिए कुछ कोर्स के लिए शैक्षणिक योग्यता और फीस अलग-अलग निर्धारित होती है। कुछ यूनिवर्सिटी में बेचलर कोर्स में प्रवेश के लिए 12वीं में 45 से 50 प्रतिशत अंक जरूरी हैं, और मास्टर डिग्री के लिए ग्रेजुएशन में 50 से 55 प्रतिशत होना आवश्यक है। वहीं, जर्नलिज्म की फीस सरकारी यूनिवर्सिटी में 5000 तक होती है, लेकिन प्राइवेट संस्थान में 50,000 से 80,000 तक हो सकती है।"

कहां-कहां है स्कोप

इन कोर्स को करने के बाद युवाओं के पास फिल्म इंडस्ट्री से लेकर मॉडलिंग इंडस्ट्री में अपना कॅरियर बनाने का मौका होता है। युवा पत्रकारिता के क्षेत्र में भी कॅरियर बना सकते हैं, साथ ही इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में भी कॅरियर की बेहतर संभावनाएं रहती हैं। इतना ही नहीं, कई सारी मैग्जीन ट्रैवल फोटोग्राफर के रूप में फोटोग्राफर हायर करती हैं। साथ ही कोई भी व्यक्ति बतौर फोटोग्राफर अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकता है, जिसमें वह शादियों में प्री-वेडिंग शूट या फिर वेडिंग शूट करके अच्छा पैसा कमा सकता है। यह आज कल के समय में उभरता हुआ कॅरियर है। एक फोटोग्राफर एकेडमीज के साथ-साथ मीडिया इंडस्ट्री या फोटोग्राफी में निजी व्यवसाय के साथ अच्छा पैसा कमा सकता है।

ये भी पढ़ें- गुड्डे-गुड़ियों से खेलने की उम्र में बनी लेखिका

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top