ज़हरीली शराब काण्ड: सहायता राशि बढ़ाकर पांच-पांच लाख रुपये की गयी

ज़हरीली शराब काण्ड: सहायता राशि बढ़ाकर पांच-पांच लाख रुपये की गयीgaonconnection

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एटा ज़िले में पिछले सप्ताह ज़हरीली शराब पीने से मारे गए लोगों के परिजनों को दी जाने वाली सहायता राशि दो-दो लाख रुपये से बढ़ाकर पांच-पांच लाख रुपए करने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने इसे दु:खद घटना बताते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि अवैध शराब बनाने एवं बेचने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि मुख्यमंत्री ने अपने विवेकाधीन कोष से प्रभावित परिवारों को दो-दो लाख रुपए की सहायता दिए जाने का निर्णय लिया था, लेकिन उन परिवारों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री ने मदद की रकम बढ़ाने का फैसला लिया।

प्रवक्ता ने बताया कि आबकारी राज्य मंत्री रामकरन आर्य ने मुख्यमंत्री से आज मिलकर उन्हें अवगत कराया कि घटना में मारे गए लोग अत्यन्त गरीब थे। उन्होंने प्रभावित परिवारों के जीवन-यापन के लिए राज्य सरकार की तरफ से पर्याप्त आर्थिक मदद देने का अनुरोध किया था।

एटा ज़िले के अलीगंज थाने के लुहारी दरवाजा मुहल्ले और उसके पास के लौखेडा गाँव में पिछले शुक्रवार की रात ज़हरीली शराब पीने से अनेक लोग बीमार हो गये थे। फर्रुखाबाद के कुछ लोगों ने भी यहां से खरीदी गयी शराब ले जाकर पी थी। एटा तथा फर्रुखाबाद ज़िलों में जहरीली शराब पीने से कम से कम 37 लोगों की मौत हो गयी थी।

इस मामले में अलीगंज थाने में प्रभारी मुकेश कुमार सहित कुल सात पुलिसकर्मियों तथा एटा के ज़िला आबकारी अधिकारी, आबकारी निरीक्षक एवं आबकारी सिपाही को निलम्बित कर दिया गया था।

Tags:    India 
Share it
Top