India’s Biggest

Rural Media Platform

events

#स्वयंफेस्टिवल : किसानों को पौधों के तोहफे का एलान

अरुण मिश्र - कम्युनिटी जर्नलिस्ट

लखनऊ। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन के स्वयं फेस्टिवल 2016 के तीसरे दिन बाराबंकी में दफेदार पुरवा के देवां ब्लॉक में किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान लगभग 300 किसानों को क्षेत्र की मिट्टी की जांच करके उन्हें मृदा जांच प्रमाण पत्र बांटे गए। इसके साथ कृषि विभाग के अधिकारियों ने भी किसानों को उद्यान और खेती संबंधी जानकारी देते हुए सरकार की तरफ से किसानों को अनुदान दिए जाने की बात बताई ।

कृषि जागरूकता शिविर के दौरान उत्साह प्रदर्शित करते हुए किसान।

कार्यक्रम में सहायक जिला उद्यान निरीक्षक अनिल श्रीवास्तव ने भी खेती संबंधित अपने विचार और सुझाव किसानों से साझा किए। उन्होंने बागवानी के लिए किसानों को प्रेरित किया। इसके साथ ही बताया कि अमरूद के बागों के लिए किसानों को सरकार की ओर से अनुदान दिया जाएगा। इसके साथ ही आने वाले नए साल के जनवरी और फरवरी महीने में अमरूद और फूलों के पौधों का वितरण किया जाएगा।

शिविर के दौरान कई विशेषज्ञ रहे मौजूद।

खेती में मिट्टी की क्या भूमिका होती है, इस विषय में सहायक कृषि अधिकारी अशोक मिश्रा ने किसानों को कई तरह की जानकारी से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि अच्छे और बेहतर उत्पादन के लिए स्वस्थ फसल का होना जरूरी है। स्वस्थ फसल तभी सम्भव है जब खेत की मिट्टी स्वस्थ होगी। इसलिए मिट्टी की जांच हर एक किसान को करवाना जरूरी है। इससे खेत की उपजाऊ क्षमता का भी पता लगाया जा सकता है। इस तरह मिट्टी की जांच की महत्ता को देखते हुए क्षेत्र की मिट्टी की जांच की गई। जांच की रिपोर्ट किसानों को मृदा रिपोर्ट कार्ड के रूप में दी गई।

बड़ी संख्या में किसानों ने इस कैंप में अपनी रुचि दिखाई।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).