48 साल पहले बिछड़े भारतीय, पाकिस्तानी भाई-बहन को फेसबुक ने मिलाया

48 साल पहले बिछड़े भारतीय, पाकिस्तानी भाई-बहन को फेसबुक ने मिलायागाँव कनेक्शन

दुबई (भाषा)। करीब 50 साल पहले भारत छोड़कर पाकिस्तान गए और अपने भाई-बहनों और परिवार से बिछड़े हमजा सरकार (76 साल) ने अपने परिवार से मिलने की आस ही छोड़ दी थी लेकिन उनकी खुशी का उस समय ठिकाना नहीं रहा जब उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबु धाबी में अपने भाई बहनों को देखा।

हमज़ा सरकार अब एक पाकिस्तानी नागरिक हैं। वो अबु धाबी में अपने भाई टी पी माम्मीकुट्टी (75 साल) और बहन इय्याथु (85 साल) से मिले जो केरल के रहने वाले हैं। अपने भाई से मिलने के लिए माम्मीकुट्टी और इय्याथु केरल से अबु धाबी आए जबकि हमजा सरकार कराची से यहां आए।

गल्फ न्यूज के अनुसार सरकार जब पहली बार 1951 में केरल से लापता हुए थे तब उनकी उम्र मात्र 11 साल थी। माम्मीकुट्टी ने कहा, ''उन्हें घूमना पसंद था। हमारी मां ने एक दिन उन्हें पशुओं को चराने के लिए भेजा। वो नहीं लौटे।'' सरकार कोलकाता जाने वाली ट्रेन में सवार हो गए थे। उन्होंने कहा, ''मैं कोलकाता से बांग्लादेश गया जो उस समय पाकिस्तान का हिस्सा था। इसके बाद मैं कराची गया।'' वो करीब 18 साल बाद 1968 में घर लौटे।

सरकार ने कहा, ''मैंने अपना जीवन खतरे में डाला और भारत में राजस्थान के करीब  सीमा पार की। मैं तीन सप्ताह पैदल चला और मैंने अंतत हैदराबाद की बस पकड़ी। मैंने अपनी मां को पत्र लिखा और उन्होंने मुझे केरल आने के लिए ट्रेन की टिकट खरीदने के लिए पैसे भेजे।'' सरकार के साथ रहने की आस में उनके परिवार ने उनके लिए एक किराने की दुकान खोली लेकिन सामान खरीदने के बहाने वो फिर बाहर निकल गए और कभी नहीं लौटे।

इय्याथु ने कहा, ''हमने उसे तभी आखिरी बार देखा था। मुझे अब भी याद है कि मेरी मां उसकी तस्वीर को अपने तकिए के नीचे रखती थी और रात रात भर रोती रहती थी।'' पाकिस्तान में रह रही सरकार की बेटी आसिया और माम्मीकुट्टी के अबु धाबी में रह रहे पोते नादिरशाह फेसबुक की मदद से एक दूसरे के संपर्क में आए और इस तरह 48 साल बाद सरकार के परिवार ने उन्हें ढूंढ निकाला।

Tags:    India 
Share it
Share it
Share it
Top