Real all agriculture, rural news in hindi from all across villages and towns of india

संवाद
जंगली जानवरों को खाना खिलाना, यह दोस्ती है या उनसे दुश्मनी निभाना
2018-09-22 12:54:01.0

श्रीलंका के याला नेशनल पार्क से होकर सिथुलपहुवा बौद्ध मंदिर जाने वाली उस कच्ची सड़क के किनारे राजा नाम का हाथी खड़ा था। वह बड़ी उदासीनता से सड़क किनारे लगे पेड़ की पत्तियां चबा रहा था। पहली नजर में...

Read More
कुपोषण से मुक्ति दिलाएगा राष्ट्रीय पोषण माह

कुपोषण से मुक्ति दिलाएगा राष्ट्रीय पोषण माह

लखनऊ। वज़न तौलने की मशीन और रजिस्टर से भरा झोला कंधे पर टांगे हुए तारावती रंजीत खेड़ा गाँव में किरण के नवजात का वज़न तौलने के लिए उसके घर पहुंचती हैं। 'तारावती (25 वर्ष) दूसरी बार मां बनी है। बच्चे को...

तालाब नहीं खेत में सिंघाड़ा उगाता है ये किसान, कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने भी किया है सम्मानित

तालाब नहीं खेत में सिंघाड़ा उगाता है ये किसान, कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने भी किया है सम्मानित

सहारनपुर। जिस समय पश्चिमी उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान समय पर भुगतान न मिल पाने से परेशान हैं, वहीं पर इस किसान का खेती का तरीका बदलकर मुनाफा कमा रहा है। तभी तो इन्हें केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन...

किसान वैज्ञानिकों के साथ मिलकर किसानों की जिंदगी बदलने वाला एक कृषि पत्रकार

किसान वैज्ञानिकों के साथ मिलकर किसानों की जिंदगी बदलने वाला एक कृषि पत्रकार

मोटाराम शर्मा (सीकर) कहते हैं, बाढ़ में मेरा सबकुछ बह गया था पर डॉ. मधुुप के लेख से 5000 फोन कॉल आए, ज़िंदगी बदल गई। धर्मवीर कंबोज (हरियाणा) जब पहली बार जयपुर में मिले, रिक्शा चलाते थे। आज करोड़ों रुपए...

बस्तर का पर्व नवा खानी : धान की नई फसल पकने पर ग्रामीण मनाते हैं जश्न

बस्तर का पर्व नवा खानी : धान की नई फसल पकने पर ग्रामीण मनाते हैं जश्न

बस्तर (छत्सीगढ़)। भारत त्योहारों का देश हैं। यहां हर मौसम और क्षेत्र का एक त्योहार है। छत्तीसगढ़ के बस्तर में बरसात के सीजन में नई फसल तैयार होने पर एक खास त्योहार मनाया जाता है, इसे 'नवा खानी' कहते...

एक डॉक्टर जिसने हज़ारों वनवासियों की समस्याओं का कर दिया इलाज़, मिलिए जितेंद्र चतुर्वेदी से...

एक डॉक्टर जिसने हज़ारों वनवासियों की समस्याओं का कर दिया इलाज़, मिलिए जितेंद्र चतुर्वेदी से...

लखनऊ‍। वन गांवों का नाम सुना है, वो गांव जो जंगल में होते हैं, अक्सर ये गांव मूलभूत सुविधाओं को तरसते रहते हैं। ऐसा ही हज़ारों लोग बहराइच के कतर्निया घाट के जंगलों में रहते थे। सात वनग्रामों में रहने...

ऐसे जाने, ग्राम पंचायत को कितना मिला पैसा, और कहां किया गया खर्च

ऐसे जाने, ग्राम पंचायत को कितना मिला पैसा, और कहां किया गया खर्च

अगर आप जानना चाहते हैं कि भारत सरकार ने आपकी ग्राम पंचायत में किस निर्माण के लिए कितना बजट दिया है, कितना पास करवाया गया है और कितना काम अब तक कराया गया है तो यह आप घर बैठे अपने मोबाइल के जरिए एक...

Share it
Share it
Share it
Top