मायावती के 'मुस्लिम वाले बयान' पर चुनाव आयोग ने जिला प्रशासन से मांगी रिपोर्ट

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने पत्रकारों को जानकारी दी कि उन्होंने मायावती द्वारा रैली में अपने भाषण में मुस्लिम शब्द का इस्तेमाल करते हुए वोट की अपील किए जाने पर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

मायावती के

लखनऊ (उत्तर प्रदेश)। चुनाव आयोग ने रविवार को सहारनपुर के देवबंद में आयोजित महागठबंधन की चुनावी रैली में बीएसपी प्रमुख मायावती द्वारा 'मुस्लिम' शब्द का इस्तेमाल किए जाने पर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने पत्रकारों को जानकारी दी कि उन्होंने मायावती द्वारा रैली में अपने भाषण में मुस्लिम शब्द का इस्तेमाल करते हुए वोट की अपील किए जाने पर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

लू ने बताया कि मायावती के इस बयान पर कई शिकायतें मिली थीं, जिसके बाद आयोग ने यह कदम उठाया है। गौरतलब है कि देवबंद में एसपी-बीएसपी-आरएलडी महागठबंधन की पहली चुनावी रैली में मायावती ने मुस्लिम मतदाताओं का आह्वान करते हुए कहा था, "बीजेपी को कांग्रेस नहीं हरा सकती। उसे सिर्फ महागठबंधन हरा सकता है, लिहाजा मुस्लिम मतदाता कांग्रेस को वोट देने के बजाय महागठबंधन प्रत्याशियों के पक्ष में एक तरफा मतदान करें।"

बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर ने मायावती के इस बयान की शिकायत चुनाव आयोग से की है। उनका कहना है कि मायावती द्वारा मुसलमानों से एक राजनीतिक दल को वोट न देने की अपील करना धार्मिक उन्माद फैलाने वाला है। साथ ही यह चुनाव आचार संहिता का खुला उल्लंघन भी है, लिहाजा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top