आंध्र प्रदेशः चुनावी झड़प में दो की मौत, एक प्रत्याशी ने ईवीएम तोड़ा

यह झड़प सत्तारूढ तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) और मुख्य विपक्षी दल वाईएसआर कांग्रेस के बीच हुई, जिसमें दोनों तरफ से एक-एक कार्यकर्ता की मौत हो गई।

गाँव कनेक्शनगाँव कनेक्शन   11 April 2019 10:11 AM GMT

आंध्र प्रदेशः चुनावी झड़प में दो की मौत, एक प्रत्याशी ने ईवीएम तोड़ाआंध्र प्रदेश में चुनाव के दौरान कई जगहों पर हिंसा

लखनऊ (उत्तर प्रदेश)। आंध्र प्रदेश के अनंतपुरमु में चुनावी झड़प के दौरान दो लोगों की मौत हो गई। यह झड़प सत्तारूढ तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) और मुख्य विपक्षी दल वाईएसआर कांग्रेस के बीच हुई, जिसमें दोनों तरफ से एक-एक कार्यकर्ता की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि यह झड़प दोपहर में ताडीपत्री विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वीरापुरम गांव में हुई।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मृतकों की पहचान वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के पुल्ला रेड्डी और टीडीपी के सिद्दा भास्कर रेड्डी के रूप में हुई है। टीडीपी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ता की मौत की निंदा की और वाईएसआर कांग्रेस पर चुनाव जीतने के लिए हिंसा में लिप्त रहने का आरोप लगाया।

वहीं नायडू के आरोपों पर पलटवार करते हुए वाईएसआर कांग्रेस ने आरोप लगाया कि स्थानीय टीडीपी सांसद जे सी दिवाकर रेड्डी और उनके विधायक भाई जे सी प्रभाकर रेड्डी ने वीरापुरम में एक मतदान केन्द्र पर गड़बड़ी का प्रयास किया। वाईएसआर कांग्रेस ने दावा किया कि पुल्ला रेड्डी पर धारदार हथियार से हमला किया गया जिससे उनकी मौत हो गई। आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश की 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है।

अभी तक 150 से अधिक जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की खबर आई है। इसकी वजह से मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर फिर से चुनाव कराने की मांग की है। नायडू ने कहा, "जो मतदाता ईवीएम में गड़बड़ी की वजह से मतदान केंद्र से वापस घर लौट गए हैं, वह फिर से वोट करने के लिए जरूरी नहीं बाहर निकलेंगे। इससे मतदान प्रभावित हुआ है। इसलिए मतदान रद्द होनी चाहिए।"

वहीं आंध्र प्रदेश के ही अनंतपुर जिले में जन सेना पार्टी के एक उम्मीदवार मधुसूदन गुप्ता ने पोलिंग बूथ पर ईवीएम को जमीन पर पटक दिया। इसके बाद सुरक्षा बलों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। गुंतकल से पूर्व विधायक मधुसूदन गुप्ता ने ईवीएम पर पार्टी चिन्ह के सही से छपे ना होने का आरोप लगाते हुए गुस्से में ईवीएम तोड़ दिया। वह ड्यूटी पर तैनात चुनाव कर्मियों पर भी चिल्लाए।

(भाषा से इनपुट के साथ)

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top