‘व्हाइट हाउस में सुरक्षित नहीं हैं ट्रंप’ 

‘व्हाइट हाउस में सुरक्षित नहीं हैं ट्रंप’ व्हाइट हाउस में सुरक्षित नहीं हैं डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन (भाषा)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को उनकी सुरक्षा के प्रति आगाह किया गया है। सीक्रेट सर्विस के पूर्व एजेंट ने व्हाइट हाउस में उन्हें असुरक्षित बताया है। उन्होंने सीक्रेट सर्विस की सुविधाओं पर सवाल उठाया। उन्होंने दावा किया कि अगर राष्ट्रपति की सुरक्षा व्यवस्था ऐसी ही रही तो किसी भी आतंकी हमले से उनकी रक्षा करना मुश्किल हो सकता है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

करीब एक हफ्ते पहले एक संदिग्ध व्यक्ति को व्हाइटहाउस की बाड के अंदर कूद कर आते हुए देखा गया। इसके साथ ही उच्च सुरक्षा वाले स्थान पर लगभग 15 मिनट तक घूमने वाले उस संदिग्ध व्यक्ति कोगिरफ्तार किया गया। इन घटनाओं के बाद ही सीक्रेट सर्विस के पूर्व एजेंट डॉन बोनगिनो ने राष्ट्रपति की सुरक्षा पर चिंता ज़ाहिर की। फॉक्स न्यूज़ की एक रिपोर्ट में बोनगिनो ने कहा कि घुसपैठिए ने व्हाइटहाउस में घुसते ही की बार अलार्म बंद किए। अलार्म बंद करते हुए उसे वहां तैनात सुरक्षा अधिकारियों ने भी देखा। इसके बावजूद लेकिन उस पर किसी ने कोई खास ध्यान नहीं दिया।

बोनगिनो बराक ओबामा और जॉर्ज डब्ल्यू बुश को सुरक्षा प्रदान कर चुके बोनगिनो का कहना है कि इस हादसे से यह साफ पता चलता है कि राष्ट्रपति व्हाइट हाउस में सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने कहा यहदिखाता है कि सीक्रेट सर्विस के पास बेहतर सुविधाऐं नहीं हैं। इसके साथ ही उनके पास जवान नहीं हैं जो उन्हें सुरक्षित रखने के लिए जरुरी हैं। उन्होंने इस बात का दावा किया है कि अगर किसी तरह काआतंकवादी हमला होता है तो सीक्रेट सर्विस उन्हें बचाने में नाकाम रहेगी। सीक्रेट सर्विस के मुताबिक बाड लांघनेवाले की पहचान कैलिफोर्निया के जोनाथन टी ट्रॉन (26) के तौर पर की गई है। यह घटना 11:21 पर हुई और उसे 11:38 पर गिरफ्तार कर लिया गया था। जिस समय यह घटना घटी उस वक्त ट्रंप अपने आवास पर थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

First Published: 2017-03-19 11:35:17.0

Share it
Share it
Share it
Top