भारत के साथ संबंधों में किसी प्रकार की गिरावट नहीं दिखाई देती: अमेरिका 

भारत के साथ संबंधों में किसी प्रकार की गिरावट नहीं दिखाई देती: अमेरिका जॉन किर्बी

वाशिंगटन (भाषा)। निवर्तमान ओबामा प्रशासन ने कहा है कि अमेरिका के लिए भारत एक अहम सहयोगी है और उसने दोनों देशों के बीच अभी तक के मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को कमजोर होते नहीं देखा है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा, ‘‘भारत इतना महत्वपूर्ण साझीदार है और इतनी अहम ताकत है कि मैंने भारत और अमेरिका के बीच अभी तक जो मजबूत द्विपक्षीय संबंध हैं, उनमें किसी प्रकार की गिरावट होते नहीं देखी है।'' नए प्रशासन में भारत और अमेरिका के संबंधों के भविष्य के बारे में पूछे जाने पर किर्बी ने कहा, ‘‘ मैं इस मंच का इस्तेमाल करके उस सलाह के बारे में बात नहीं करना चाहता हूं जो विदेश मंत्री (जॉन) केरी उनके बाद इस पद को संभालने वाले को दे सकते हैं।''

उन्होंने कहा, ‘‘हम निस्संदेह भारत के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंधों की ताकत में यकीन रखते हैं। यह कई विभिन्न स्तरों पर अहम और महत्वपूर्ण है और हम निश्चित ही भारत के साथ संबंधों के बारे में सूचना और संदर्भ मुहैया कराने के लिए वे सभी चीजें करेंगे जिसकी सत्ता हस्तांतरण दल को आवश्यकता है ताकि वे अपना निर्णय ले सकें।''

किर्बी ने कहा, ‘‘मैं इस बात का पूर्वानुमान नहीं जताऊंगा या इस बारे में चर्चा नहीं करुंगा कि आगामी प्रशासन भारत के साथ किस प्रकार बातचीत करेगा।'' विदेश मंत्रालय ने भारत सरकार के नोटबंदी के कदम संबंधी प्रश्नों के उत्तर देने से इनकार कर दिया। उन्होंने इसे भारत का आंतरिक मामला बताया।

Share it
Share it
Share it
Top