गोम्स की लोकप्रियता से घबरा गई है भाजपा: केजरीवाल 

गोम्स की लोकप्रियता से घबरा गई है भाजपा: केजरीवाल अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री, दिल्ली

पणजी (भाषा)। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने साेमवार को दावा किया कि भाजपा मुख्यमंत्री पद के लिए ‘आप’ के दावेदार एल्विस गोम्स की लोकप्रियता से घबरा गई है, इसीलिए भगवा पार्टी मनोहर पर्रिकर को उनके गृह राज्य में वापस लाने के संकेत दे रही है।

गोवा में विभिन्न नुक्कड़ सभाओं को संबोधित कर रहे केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, “राज्य की जनता ने मुख्यमंत्री पद के चेहरे के रूप में एल्विस गोम्स का स्वागत किया है। एल्विस एक जिम्मेदार, ईमानदार, स्वच्छा चरित्र वाले और प्रशासनिक अनुभव वाले व्यक्ति हैं।” केजरीवाल ने कहा, “भाजपा एल्विस गोम्स को राज्य भर में मिलता समर्थन देखकर घबरा गई है। यही वजह है कि उसने मनोहर पर्रिकर को गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में वापस लाने के संकेत देने शुरू कर दिए हैं।” भाजपा मुख्यमंत्री पद के अपने उम्मीदवार के नाम को लेकर रहस्य बनाए हुए है। केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने रविवार को कहा था कि “विधायक फैसला करेंगे और अंतिम निर्णय पार्टी के संसदीय बोर्ड का होगा।” भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी ने हाल ही में कहा था कि गोवा का अगला मुख्यमंत्री या तो निर्वाचित प्रतिनिधियों में से होगा या फिर केंद्र से भेजा जाएगा। उनके इस बयान से ये कयास लगाए जाने लगे थे कि रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को वापस गोवा की राजनीति में भेजा जा सकता है।

कांग्रेस के पास गोवा के मुख्यमंत्री का चेहरा नहीं

केजरीवाल ने दावा किया, “कांग्रेस के पास गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में पेश करने के लिए कोई विश्वसनीय चेहरा नहीं है। भाजपा लक्ष्मीकांत पारसेकर में विश्वास खो चुकी है। अब वे मनोहर पर्रिकर को वापस लाने की बात कर रहे हैं।” उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ही लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने में नाकाम रही हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दावा किया, “राज्य की जनता दोनों दलों के शासन में कभी खुश नहीं रही। ऐसी स्थितियों में ‘आप’ मतदाताओं के लिए एक व्यवहारिक विकल्प बनकर सामने आई है और मतदाता अब इसके साथ आ रहे हैं।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज्य में कहीं भी प्रचार करती नजर नहीं आ रही क्योंकि वे अपनी अंदरुनी तकरारों को सुलझाने में व्यस्त हैं।

कांग्रेस को लोग वोट नहीं देंगे

केजरीवाल ने कहा, “लोग कांग्रेस को वोट नहीं देंगे क्योंकि वे जानते हैं कि यह उनके कीमती अधिकार की बर्बादी होगा।” उन्होंने आरोप लगाया, “मतदाता वर्ष 2012 में बहुत उम्मीदों के साथ भाजपा को सत्ता मंे लेकर आए थे लेकिन पार्टी अपने वादे पूरे करने में विफल रही।” उन्होंने आश्वासन दिया कि यदि आप को सत्ता में लाया जाता है तो राज्य की सभी परियोजनाएं जनता को विश्वास में लेने के बाद ही लागू की जाएंगी। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के पर्यटन उद्योग को नशीले पदार्थों की बुराई से मुक्त कराया जाएगा। उन्होंने कहा, “नशीले पदार्थों का व्यापार राजनीतिक मदद के बिना नहीं हो सकता।”

Share it
Top