दिल्ली मेट्रो में अब महिलाएं चाकू रखकर यात्रा कर सकेंगी, माचिस व लाइटर से भी प्रतिबंध हटा

दिल्ली मेट्रो में अब महिलाएं चाकू रखकर यात्रा कर सकेंगी, माचिस व लाइटर से भी प्रतिबंध हटामहिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया फैसला

नई दिल्ली। महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली मेट्रो अब में महिला यात्रियों को चाकू रखकर यात्रा की इज़ाजत दे दी गई है। इसी के साथ केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने लाइटर और माचिस को भी प्रतिबंधित वस्तुओं की सूची से हटा दिया है।

नए फैसले के अनुसार, महिलाएं अब आत्म-सुरक्षा के लिए चार इंच तक का छोटा चाकू साथ लेकर चल सकती हैं। एक अधिकारी ने कहा कि हाल ही में शास्त्री पार्क के डिपो में हजारों की तादात में ये चीजें जमा होने की खबर के बाद यह फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि कभी आइटम की गिनती नहीं की गई है लेकिन वर्तमान में विभिन्न स्टेशनों पर करीब 100 लाइटर और माचिस रोजाना जब्त की जाती हैं।

सीआईएसएफ के एक अधिकारी ने कहा कि इसके अलावा प्रति यात्रियों को टूल्स ले जाने के लिए अनुमति भी दे दी गई है। दरअसल, कई मजदूर मेट्रो से यात्रा करते हैं और काम के लिए टूल्स ले जाने के लिए हमसे कई बार अनुरोध किया जाता था। इसे देखते हुए यह फैसला किया गया है हालांकि, हम टूल्स की जांच करते हैं और उनकी इंट्री रजिस्टर में करते हैं, ताकि जरूरत पड़ने पर यात्री का पता लगाया जा सके।

एक अनुमान के अनुसार रोजाना करीब 30 लाख यात्री दिल्ली मेट्रो से सफर करते हैं।

तेज धार चाकू, तलवार, बंदूक, आग्नेयास्त्रों, विस्फोटक सामग्री, ज्वलनशील वस्तुओं, खतरनाक रसायनों और शराब की बोतलें अभी भी मेट्रो के अंदर प्रतिबंधित 54 आइटम की सूची में शामिल हैं।

Share it
Share it
Share it
Top