पूर्व मंत्री ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, कहा BJP की गोवा इकाई से निराश हूं 

पूर्व मंत्री ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, कहा BJP की गोवा इकाई से निराश हूं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पणजी (भाषा)। गोवा BJP के एक वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्य मंत्री विल्फ्रेड मेसक्विटा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर पार्टी की स्थानीय इकाई में चल रहे घटनक्रमों पर अपनी निराशा जाहिर की है और दावा किया कि वे भ्रष्टाचार को संरक्षण दे रहे हैं और उनके (प्रधानमंत्री के) उद्देश्यों के खिलाफ काम कर रहे हैं।

अनिवासी भारतीय मामलों के आयुक्त मेसक्विटा के इस पत्र की एक प्रति ‘पीटीआई’ के पास उपलब्ध है, जिसमें उन्होंने लिखा, ‘‘प्रणालीगत परिवर्तन के लिए लड़ाई, देश की अर्थव्यवस्था को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना, कालाधन का इस्तेमाल और इसका प्रसार करने वाले नेताओं को दंडित करना और कई अन्य बदलाव आपके घोषित उद्देश्यों में शामिल हैं।’’

छह जनवरी, 2017 को लिखे पत्र में अमित शाह को भी संबोधित करते हुए उन्होंने दावा किया, ‘‘दुर्भाग्यवश गोवा में इसके विपरीत हो रहा है।'' मेसक्विटा ने स्थानीय पार्टी इकाई के खिलाफ अपने दावों के समर्थन में कांग्रेस के दो पूर्व विधायकों (मॉविन गोडिन्हो और पांडुरंग मडकाईकर) को पार्टी में शामिल किए जाने का हवाला दिया।

कांग्रेस पार्टी के दो भ्रष्ट विधायकों को हाल में पार्टी में शामिल किया जाना, राजनीतिक स्वार्थ का इससे बेहतर उदाहरण नहीं है।
विल्फ्रेड मेसक्विटा, पूर्व राज्य मंत्री

पत्र के अनुसार, ‘‘जिन दो विधायकों को उन्होंने पार्टी में शामिल किया है उन्हें नीचा दिखाने के लिए BJP नेताओं ने कोई मौका नहीं गंवाया था और यहां तक कि विधानसभा के पवित्र मंच सहित उन्होंने हर मंच पर ऐसा किया और आज वे उन्हें गले लगा रहे हैं। नतीजतन गोवा में विशेषकर पार्टी नेता और पार्टी अपनी विश्वसनीयता खो चुकी है।''

गोवा विधानसभा चुनाव से पहले इन दोनों नेताओं को BJP में शामिल किया गया था और BJP हाईकमान द्वारा दिल्ली में जारी विधानसभा चुनाव के पार्टी उम्मीदवारों की पहली सूची में इन विधायकों के नाम भी शामिल थे।

Share it
Top