सरकार आक्रामक नहीं होगी, लेकिन चीजों को हल्के में नहीं लेगी: पर्रिकर

सरकार आक्रामक नहीं होगी, लेकिन चीजों को हल्के में नहीं लेगी: पर्रिकरमनोहर पर्रिकर, रक्षामंत्री

मुंबई (भाषा)। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज कहा कि नियंत्रण रेखा के पार हालिया लक्षित हमले ने एक संदेश दिया है कि सरकार आक्रामक नहीं होगी, लेकिन साथ ही चीजों को हल्के में भी नहीं लेगी। पर्रिकर ने यह भी कहा कि यदि पाकिस्तान संघर्षविराम उल्लंघन करना बंद कर दे तो सीमा पर तनाव कम होगा।

उन्होंने यहां नए युद्धपोत ‘आईएनएस चेन्नई' के जलावतरण के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘लक्षित हमले से एक संदेश गया है कि सरकार आक्रामक नहीं होगी, लेकिन चीजों को हल्के में भी नहीं लेगी।'' आतंकी शिविरों पर सेना की कार्रवाई और सीमा पार से संघर्षविराम उल्लंघनों में हाल ही में वृद्धि के बारे में प्रश्नों का उत्तर देते हुए पर्रिकर ने कहा कि यदि ऐसे उल्लंघनों के समय पर गौर किया जाए तो उनमें हमेशा कुछ राजनीतिक कोण होता है।

उन्होंने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव तभी कम होगा जब पाकिस्तान संघर्षविरम समझौते का उल्लंघन करना बंद कर दे।'' उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों देशों के बीच संबंध सुधारने का प्रयास किया लेकिन ‘उनकी कड़ी आलोचना हुई। 'उन्होंने कहा कि हम हमेशा अच्छे संबंध का स्वागत करते हैं लेकिन राष्ट्रहित की कीमत पर नहीं।

Share it
Top