दोबारा होगी पुखरायां रेल हादसे की जांच

दोबारा होगी पुखरायां रेल हादसे की जांचबीस नवंबर को इंदौर पटना एक्सप्रेस पटरियों से उतर गई थी।

कानपुर (भाषा)। कानपुर झांसी रेल मार्ग पर पुखरायां के पास बीस नवंबर को इंदौर पटना एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त मामले की जांच करने के लिए कमिश्नर आफ रेलवे सेफ्टी ईस्टर्न सर्किल (मुख्य संरक्षा आयुक्त पूर्वी) पीके आचार्य 30 नवंबर को एक बार फिर कानपुर आएंगे और एक दिसंबर तक यहां रुककर ट्रेन के स्टाफ समेत, ट्रैक से जुड़े स्टाफ तथा कोच मेंटेनेंस के कर्मचारियों से पूछताछ करेंगे।

बुधवार से कानपुर के सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर डिप्टी सीटीएम आफिस में शुरू होने वाली इस दो दिवसीय जांच के लिए विज्ञापन भी दिए गए हैं। इससे पहले कमिश्नर रेलवे सेफ्टी 22, 23 और 24 नवंबर को इस मामले की व्यापक जांच कर चुके हैं तथा इस दौरान उन्होंने दो बार दुर्घटनास्थल का दौरा भी किया था। एनसीआर (उत्तर मध्य रेलवे) के प्रवक्ता अमित मालवीय ने बताया कि कमिश्नर आफ रेलवे सेफ्टी ईस्टर्न सर्किल पीके आचार्य मंगलवार शाम तक कानपुर पहुंच सकते हैं और बुधवार सुबह साढ़े नौ बजे से एक बार फिर जांच और पूछताछ का काम आरंभ करेंगे। फिलहाल जांच दो दिन 30 नवंबर और एक दिसंबर के लिए ही निर्धारित है।

रेलवे के सूत्रों के मुताबिक रेलवे अब तक जिन लोगों के बयान ले चुका है उनके अलावा जिन लोगों के लिखित बयान लिए गए हैं उन्हें एक बार फिर बुलाया जा सकता है और उनसे दोबारा पूछताछ हो सकती है। यहीं नहीं ट्रेन के ड्राइवर और गार्ड को भी दोबारा पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। कमिश्नर आचार्य दुर्घटनास्थल का भी दौरा भी कर सकते हैं। इससे पहले आचार्य मीडिया को बता चुके हैं कि वह अपनी जांच रिपोर्ट रेल मंत्रालय को एक माह में सौपेंगे। गौरतलब है कि इंदौर पटना एक्सप्रेस हादसे में 151 यात्रियों की मौत तथा 200 लोग घायल हो गये थे।

Share it
Top