चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के आठवें सत्र की विपक्ष के हंगामे के बीच शुरुआत 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   23 Feb 2017 6:46 PM GMT

चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के आठवें सत्र  की विपक्ष के हंगामे के बीच शुरुआत राजस्थान विधानसभा में राज्यपाल कल्याण सिंह।

जयपुर (भाषा)। चौदहवीं राजस्थान विधानसभा के आठवें सत्र की शुरुआत आज प्रतिपक्ष के हंगामे के बीच राज्यपाल कल्याण सिंह के अभिभाषण से हुई।

राज्यपाल के अभिभाषण देने के साथ ही कांग्रेस, राजपा, बसपा और एक निर्दलीय सदस्य ने सरकार पर भ्रष्टाचार, किसानों को मुआवजा नहीं देने का आरोप लगाया और विधानसभा सदस्यों के साथ पुलिस द्वारा कथित मारपीट का मामला उठाया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

कांग्रेस के गोबिन्द डोटासरा, राजपा केेेे डा. किरोडी लाल मीणा, गोलमा देवी, गीता वर्मा, निर्दलीय हनुमान बेनीवाल, बसपा के मनोज नागलिया नेेे सरकार पर बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, बिगड़ती कानून एवं व्यवस्था और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को मुआवजा नहीं देने का आरोप लगाए।

संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड ने विपक्ष के आचरण की निंदा करते हुए राज्यपाल से अभिभाषण का अन्तिम पन्ना पढ़ने का आग्रह किया। राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान डा. किरोडी लाल मीणा, मनोज नागलिया, गीता वर्मा, गोलमा देवी, हनुमान बेनीवाल और नवीन पिलानिया आसन के समक्ष धरने पर बैठ गए।

संसदीय कार्यमंत्री राठौड ने फिर राज्यपाल से अभिभाषण का अन्तिम पेज पढ़ने का आग्रह किया और राज्यपाल कल्याण सिंह नेे सदन से एकजुटता से राज्य के विकास में जुटने का आहवान किया।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top