केंद्र की कोशिश को धक्का: 500-1000 की नोट बंद होने का ऐलान होते ही आधी रात सोना बेचने लगीं गहनों की दुकानें

Bhasker TripathiBhasker Tripathi   9 Nov 2016 1:06 AM GMT

केंद्र की कोशिश को धक्का: 500-1000 की नोट बंद होने का ऐलान होते ही आधी रात सोना बेचने लगीं गहनों की दुकानें500 और 1000 के नोट बंद किये जाने के ऐलान के बाद लोगों को आये ये मैसेज।

मंगलवार की शाम 500-1000 की नोट आधी रात के बाद बंद किये जाने का ऐलान होते ही। देश के अलग-अलग राज्यों में लोगों के फोनों पर गहनों की दुकानें और बिग बज़ार जैसे रिटेल स्टोर आधी रात तक खुले होने के संदेश आने लगे।

जाली नोटों और जमाखोरी के खिलाफ उठाया गया सरकार ये कदम देर शाम इसीलिए आया ताकि जमाखोरों को कोई मौका न मिल सके।

ऐसे में इन दुकानों और स्टोर्स का ये बर्ताव कानूनी सवालों के घेरे में ज़रूर आता है।

गुजरात के अहमदाबाद में रहने वाले डॉ दीपक आचार्य ने गाँव कनेक्शन के साथ तस्वीरें साझा कि जिसमें से एक में गहने व दूसरी में बिग बज़ार उन्हें देर रात तक बिक्री की जानकारी दे रहा था। ज़ाहिर है विज्ञापन की तरह आए ये संदेश उनके जैसे हज़ारों लोगों को भेजे गए।

इसी तरह लखनऊ के निवासी जमशेद क़मर सिद्दीकी को भी गहनों की एक दुकान के देर तक खुले होने और सोना खरीदने के विशेष ऑफर की जानकारी एसएमएस विज्ञापन द्वारा दी गयी।

इस सब की शुरुआत तब हुई जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम विशेष संबोधन में कहा कि आज रात 12 बजे से 1000 रुपये और 500 रुपये की रकम वैध नहीं होगी। नकद लेन देन 100, 50, 20 रुपए के नोट से होगा। सरकार कुछ समय बाद 500 व 1000 रुपए के नए नोट जारी करेगी जो विशेष प्रकार का होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार देश में गहरी जड़ें जमा चुका है। भ्रष्टाचार, जाली मुद्रा और आतंकवाद नासूर बन चुका है और अर्थव्यवस्था को जकड़ लिया है। पिछले ढाई साल के दौरान 1.25 लाख करोड़ रुपये के काला धन का पता लगाया गया है। सीमा पार से हमारे दुश्मन जाली रकम के जरिए भारत में रैकेट चला रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा:

- आज रात 12 बजे से 1000 रुपये और 500 रुपये की रकम वैध नहीं होगी

-कागज वाले 1000 रुपये और 500 रुपये के नोट कागज के टुकड़े रह जाएंगे और उनका कोई मूल्य नहीं होगा

-लोग 10 नवंबर से 30 दिसंबर 2016 तक अपने-अपने बैंकों में 1,000 रुपये और 500 रुपये के नोट जमा करा सकेंगे।

-कुछ कारणों से जो लोग 1,000 रुपये और 500 रुपये के नोट 30 दिसंबर तक जमा नहीं करा सकेंगे , वे लोग पहचान पत्र दिखाकर 31 मार्च 2017 तक नोट बदलवा सकेंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top