कानपुर रेल हादसे में अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज, 12 लोगों की टीम करेगी जांच 

कानपुर रेल हादसे में अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज, 12 लोगों की टीम करेगी जांच इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे का दृश्य।

कानपुर (भाषा)। इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में रेलवे ने अपने कुछ अज्ञात कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। कल ट्रेन के पटरी से उतरने के कारण हुए इस हादसे में मरने वालों की तादाद आज 148 पर पहुंच गई। कानपुर रेलवे स्टेशन पर रेलवे के महानिदेशक गोपाल गुप्ता ने संवाददाताओं से बात करते हुए यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि भीमसेन रेलवे स्टेशन के जीआरपी पुलिस स्टेशन में अज्ञात रेलकर्मियों के खिलाफ रविवार की दुर्घटना के सिलसिले में भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (ए), 337 और 338 के अंतर्गत मामला दर्ज कराया गया है। उन्होंने बताया कि झांसी में जीआरपी के डीएसपी के नेतृत्व में 12 लोगों के एक दल का गठन किया गया है, जो इस मामले की जांच करेगा।

टूटी पटरी को हादसे की वजह बताए जाने के बारे में पूछे जाने पर गुप्ता ने कहा कि इस तरह का कोई सुबूत नहीं मिला है। उन्होंने घटना के पीछे किसी आतंकी साजिश अथवा विस्फोट की आशंका के बारे में भी किसी तरह का कोई सुबूत फिलहाल न होने की बात कहते हुए कहा कि जांच के बाद ही इस संबंध में किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकेगा।

उन्होंने बताया कि हादसे के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी हासिल करने के लिए हादसे में जीवित बचे ट्रेन यात्रियों से पूछताछ की जा रही है, लेकिन घटना चूंकि तडके तीन बजे के आसपास हुई इसलिए ज्यादातर लोग सो रहे थे और इस बारे में ज्यादा जानकारी देने की स्थिति में नही हैं। गुप्ता ने बताया कि अब तक सात शवों की पहचान नहीं हो पाई है। हादसे की जगह पर पटरी की फिश प्लेट उखड़ी होने की खबरों के बारे में उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

कानपुर ग्रामीण के पुखरायां इलाके में रविवार सुबह इंदौर पटना एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरने से 148 लोगों की मौत हो चुकी है और बहुत से लोग घायल हैं।


Share it
Top