बेसहारा बच्चों-बुजुर्गों संग दीपावली मनाएंगे उत्तर प्रदेश के पुलिसकर्मी  

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   28 Oct 2016 9:16 PM GMT

बेसहारा बच्चों-बुजुर्गों संग दीपावली मनाएंगे उत्तर प्रदेश के पुलिसकर्मी   उत्तर प्रदेश पुलिसकर्मी।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश पुलिस इस बार बेसहारा बच्चों और बुजुर्गों के साथ दीपावली मनाएंगे।

आमतौर पर रुखे स्वभाव के लिए पहचाने जाने वाले पुलिसकर्मियों की आम जनता के बीच छवि सुधारने और उनका मानवीय चेहरा सामने लाने के लिए इस बार उन्हें बेसहारा बच्चों और बुजुर्गों के साथ दीपावली की खुशियां बांटने के निर्देश दिए गए हैं।

पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद ने प्रदेश के सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षकों, परिक्षेत्रीय पुलिस उपमहानिरीक्षक तथा जोनल पुलिस महानिरीक्षकों को भेजे गये पत्र में उल्लिखित निर्देशों के मुताबिक सभी थानाध्यक्ष, क्षेत्राधिकारी तथा अपर पुलिस अधीक्षक दीपावली की पूर्व संध्या पर 29 अक्तूबर को अपने-अपने क्षेत्र में स्थित अनाथालयों तथा वृद्धाश्रमों में मिठाई, सजावटी पटाखे तथा मोमबत्ती लेकर जाएंगे और शाम को छह से सात बजे तक अनाथ बच्चों और वृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्गों के साथ दीपावली की खुशियां बाटेंगे।

अहमद ने पत्र में कहा कि हर बार की तरह इस बार भी दीपावली का त्यौहार धूमधाम से मनाया जाएगा, लेकिन हमें याद रखना होगा कि तमाम अनाथ और बेसहारा बच्चे एवं वृद्घाश्रम में रहने वाले बड़े बुजुर्ग अपने परिवार एवं संसाधन के अभाव में यह त्यौहार नहीं मना पाते हैं। कानून व्यवस्था सम्भालने के साथ ही साथ पुलिस का यह नैतिक दायित्व है कि वह समाज के विभिन्न वर्गों का विश्वास जीते।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार के महत्वपूर्ण अवसरों पर अनाथ बच्चों, गरीबों, बेसहारा बुजुर्गों इत्यादि के साथ कुछ समय व्यतीत करके उन्हंे मुबारकबाद देना इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होगा।



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top