एक करोड़ रुपए चाहिए तो डिजिटल ट्रांजेक्शन करें

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   16 Dec 2016 2:38 PM GMT

एक करोड़ रुपए चाहिए तो डिजिटल ट्रांजेक्शन करेंलकी ग्राहक योजना’ और ‘डिजी धन व्यापार योजना’ की जानकारी देते हुए नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कान्त।

नई दिल्ली (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नकदीरहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए आज घोषित की गई दो पुरस्कार योजनाओं ‘लकी ग्राहक योजना' और ‘डिजी धन व्यापार योजना' पर कहा कि यह ‘क्रिसमस का यादगार तोहफा' है।

मोदी ने इन नई पहलों के विज्ञापन के साथ ट्वीट कर कहा, ‘‘इन दो योजनाओं से डिजिटल भुगतान को और प्रोत्साहन मिलेगा।'' प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने कई ट्वीट जारी कर कहा, ‘‘नकदीरहित लेनदेन को प्रोत्साहन के लिए एक रणनीतिक पहल। नकदीरहित और भ्रष्टाचार रहित भारत की ओर बढ़ने के लिए एक बड़ा कदम। दो नई योजनाएं शुरू।''

इससे पहले दिन में नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कान्त ने ‘लकी ग्राहक योजना' और ‘डिजी धन व्यापार योजना' की घोषणा करते हुए कहा कि इनके दायरे में 50 रुपए से लेकर 3,000 रुपए तक के छोटे लेनदेन आएंगे। इसका मकसद समाज के प्रत्येक वर्ग को डिजिटल भुगतान के लिए प्रोत्साहित करना है।

इसे देशवासियों के लिए क्रिसमस का तोहफा करार दिया। इसका पहला ड्रॉ 25 दिसंबर को होगा और ‘मेगा ड्रॉ’ 14 अप्रैल को बीआर अम्बेडकर की जयंती पर होगा।
अमिताभ कान्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीति आयोग

नेशनल पेमेंट कारपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) 25 दिसंबर से अगले 100 दिन तक 15,000 विजेताओं की घोषणा करेगा। प्रत्येक विजेता को 1,000 रुपए दिए जाएंगे। ग्राहकों तथा दुकानदारों के लिए 7,000 साप्ताहिक पुरस्कार होंगे।

नीति आयोग के सीईओ ने कहा कि इन योजनाओं के जरिए हमारा लक्ष्य गरीब, मध्यम वर्ग तथा छोटे कारोबारी हैं, हम उन्हें डिजिटल भुगतान क्रान्ति में लाना चाहते हैं। उपभोक्ताओं के लिए मेगा पुरस्कार एक करोड़ रुपए, 50 लाख रुपए और 25 लाख रुपए का होगा। मर्चेंट या दुकानदारों के लिए यह 50 लाख रुपए, 25 लाख रुपए और 5 लाख रुपए होगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top